दिनांक : 12/19/2018
संविदा आधार पर ग्रेड ‘सी’ में अधिकारियों की लेटरल भर्ती - पैनल वर्ष 2018

महत्वपूर्ण अनुदेश

1. उम्मीदवार पदों के लिए अपनी पात्रता सुनिश्चित कर लें:

आवेदन करने से पहले उम्मीदवारों को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वे भारतीय रिज़र्व बैंक (भारिबैं/बैंक) के लिए विज्ञापित पदों के लिए पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं। भारतीय रिज़र्व बैंक सर्विसेज़ बोर्ड (इसके बाद इसे ‘बोर्ड’ कहा जाएगा) पद के लिए अपेक्षित शुल्क/सूचना प्रभारों (जहां कहीं भी लागू हो) के साथ आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन में दी गई जानकारी के आधार पर परीक्षाओं में प्रवेश देगा तथा उनकी पात्रता का निर्धारण केवल अंतिम स्तर अर्थात साक्षात्कार के लिए बुलाए जाने के समय ही करेगा। उस स्तर पर यदि यह पाया गया कि ऑनलाइन आवेदन में दी गई कोई भी जानकारी झूठी/गलत है या बोर्ड के अनुसार उम्मीदवार पद के लिए पात्रता मानदंडों को पूरा नहीं करता/करती है तो उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी तथा उन्हें साक्षात्कार के लिए उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जाएगी तथा यदि वे पहले से बैंक में सेवारत है तो उन्हें बिना नोटिस दिए सेवा से हटाया जा सकता है।

2. आवेदन का तरीका:

उम्मीदवारों के लिए अपेक्षित है कि वे बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in के माध्यम से केवल ऑनलाइन आवेदन करें। आवेदन प्रस्तुत करने का कोई और तरीका उपलब्ध नहीं है। “ऑनलाइन आवेदन फार्म” भरने के लिए संक्षिप्त अनुदेश परिशिष्ट–I में दिए गए हैं:

3. महत्‍वपूर्ण तिथियां:

गतिविधियां महत्‍वपूर्ण तिथियां**
वेबसाइट लिंक खुला रहेगा- आवेदनों के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए तथा शुल्क/सूचना प्रभारों के भुगतान के लिए 19 दिसम्बर 2018 से 08 जनवरी 2019
** बोर्ड को इन तिथियों में परिवर्तन करने का अधिकार है।

4. सहायता हेतु सुविधा : फार्म भरने, शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान करने अथवा प्रवेश पत्र डाउनलोड करने में कोई समस्या आने के मामले में अपनी शंका का समाधान http://cgrs.ibps.in लिंक के माध्यम से किया जा सकता है।

ईमेल के विषय में ‘भारिबैं - ग्रेड ‘सी’ में अधिकारियों (संविदा आधार पर) की लेटरल भर्ती’- ‘आवेदित पद’ का उल्लेख करना न भूलें।

5. शुद्धिपत्र: कृपया नोट करें कि यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा।

विस्तृत नोटिस

1. भारतीय रिज़र्व बैंक सर्विसेज़ बोर्ड (बोर्ड) भारतीय रिज़र्व बैंक (भारिबैं/बैंक) में निम्नलिखित पदों / क्षेत्रों के लिए संविदा आधार पर ग्रेड सी में अधिकारी के पद पर पात्र उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित करता है:

क्रम सं. क्षेत्र / पद पदनाम रिक्तियों की संख्या
अनारक्षित (अना) अनुसूचित जाति (अजा) अनुसूचित जनजाति (अजजा) अन्य पिछड़ा वर्ग (अपिव) $ कुल
1. ट्रेड फाइनेंस बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक 4 0 0 1 5
2. कॉर्पोरेट लेंडिंग बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक 4 0 0 1 5
3. ट्रेज़री बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक 4 0 0 1 5
4. रिटेल लेंडिंग बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक 4 0 0 1 5
5. एनालिटिक्स और सामान्य बैंकिंग एनालिस्ट 4 0 0 1 5
6. अकाउंटिंग (आइएफआरएस) अकाउंट विशेषज्ञ 4 0 0 1 5
7. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलोजी आईटी एग्जामिनर/ आईटी एनालिस्ट / आईटी लेखा परीक्षक 7 1 0 2 10
8. स्ट्रेस टेस्टिंग एनालिस्ट 4 0 0 1 5
9. मेन्फ्रेम सिस्टम एडमिनिस्टरेटर/वर्चुअलाईज्ड एनविरामेंट एडमिनिस्टरेटर/ डाटाबेस एडमिनिस्टरेटर सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर 3 0 0 1 4
10. एप्लीकेशन / मिडलवेयर विशेषज्ञ- एप्लीकेशन मिडलवेयर एडमिनिस्टरेटर - आईबीएम एमक्यू / ओरेकल वेब लॉजिक / जेबॉस / डब्ल्यूएएस प्रोजेक्ट एडमिनिस्ट्रेटर 3 0 0 0 3
11. नेटवर्क एक्सपर्ट नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर 3 0 0 0 3
12. वेब डिज़ाइनर वेब डिज़ाइनर 1 0 0 0 1
13. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर-बिग डाटा और ओपन सोर्स सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर (बिग डाटा) 1 0 0 0 1
14. बिहेवियरल साइंटिस्ट बिहेवियरल साइंटिस्ट 1 0 0 0 1
15. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर 2 0 0 0 2
16. अंतरराष्ट्रीय करार / कराधान मामले विधि विशेषज्ञ 1 0 0 0 1
  कुल   50 1 0 10 61
$ अपिव वर्ग से संबंधित जो उम्मीदवार ‘क्रीमी लेयर’ में आते हैं वे अपिव आरक्षण के लिए हकदार नहीं हैं। उन्हें अपने वर्ग का उल्लेख ‘सामान्य (सामा)’ के रूप में करना चाहिए।

पीडब्ल्यूबीडी के लिए आरक्षण: ये पद बेंचमार्क विकलांगों वाले व्यक्तियों (पीडब्ल्यूबीडी) के लिए आरक्षित नहीं हैं। हालांकि, पीडब्ल्यूबीडी उम्मीदवार उम्र में छूट के अलावा किसी भी रियायत के बिना आवेदन कर सकते हैं जो उस पद के लिए उनकी उपयुक्तता के अधीन होगा। तदनुसार, नीचे उल्लिखित श्रेणियों से संबंधित पीडब्ल्यूबीडी उम्मीदवार उपर्युक्त पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं। पीडब्ल्यूबीडी उम्मीदवार किसी भी श्रेणी (यानी सामान्य / एससी / एसटी / ओबीसी) से संबंधित हो सकते हैं। पीडब्ल्यूबीडी उम्मीदवारों के पास सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी किया गया नवीनतम विकलांगता प्रमाण पत्र होना चाहिए जो विकलांग व्यक्ति अधिकार अधिनियम, 2016 (आरपीडब्ल्यूडी अधिनियम, 2016) के जरिये निर्धारित हो। इस तरह का प्रमाणपत्र बोर्ड / सक्षम प्राधिकारी द्वारा तय किए जाने वाले सत्यापन / पुन: सत्यापन के अधीन होगा।

दिव्यांगता का नाम कार्यात्मक वर्गीकरण शारीरिक अपेक्षाएं
दृष्टिबाधित तथा निम्न दृष्टि दृष्टिबाधित बैठना, चलना, संप्रेषण, झुकना, स्थायी, खड़े होना, सुनना/ बोलना, उठाना, घुटने टेकना और झुकना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना, पढ़ना और लिखना (ब्रेल में/ सॉफ्टवेयर में)
निम्न दृष्टि बैठना, चलना, संप्रेषण, झुकना, स्थायी, खड़े होना, सुनना/ बोलना, उठाना, घुटने टेकना और झुकना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना।
कम सुनाई देना कम सुनाई देना बैठना, चलना, संप्रेषण, झुकना, स्थायी, खड़े होना, सुनना/ बोलना, उठाना, घुटने टेकना और झुकना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना।
लोकोमोटर दिव्यांगता सहित सेरेब्रल पाल्सी, मांसपेशीय दुर्विकास (मस्कुलर डिस्ट्रॉफी), ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक पीड़ितों i) एक आर्म,एक पैर, सेरेब्रल पाल्सी, ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक पीड़ित,
ii) दोनों लेग लेकिन आर्म नहीं
i) बैठना, चलना, संप्रेषण, झुकना, स्थायी, खड़े होना, सुनना/ बोलना, उठाना, घुटने टेकना और झुकना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना।
ii) बैठना, देखना, संप्रेषण, पढ़ना और लिखना, सुनना/ बोलना, उठाना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना।
iii) मांसपेशीय दुर्विकास (मस्कुलर डिस्ट्रॉफी) iii) बैठना, देखना, संप्रेषण, पढ़ना और लिखना, सुनना/ बोलना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers)।
विभिन्न दिव्यांगताएं एक आर्म, एक पैर, सेरेब्रल पाल्सी, ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक पीड़ित और
i) दृष्टिबाधित / निम्न दृष्टि, या
ii) कम सुनाई देना(एचएच)
बैठना, चलना, संप्रेषण, झुकना, स्थायी, खड़े होना, सुनना/ बोलना, उठाना, घुटने टेकना और झुकना, उँगलियों का हस्त कौशल (manipulation by fingers), धक्का देना और खींचना और
i) पढ़ना और लिखना (ब्रेल में/ सॉफ्टवेयर में) और सुनना/ बोलना या
ii) पढ़ना, लिखना और देखना-यथा लागू

2. पात्रता की शर्तें:

i) राष्ट्रीयता: उम्मीदवार को या तो

(a) भारत का नागरिक होना चाहिए, अथवा

(b) नेपाल की प्रजा, अथवा

(c) भूटान की प्रजा, अथवा

(d) ऐसा तिब्बती शरणार्थी जो भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आ गया हो, अथवा

(e) कोई भारतीय मूल का व्यक्ति जो भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से पाकिस्तान, बर्मा, श्रीलंका, पूर्वी अफ्रीकी देशों कीनिया, युगांडा, संयुक्त गणराज्य तंजानिया, जाम्बिया, मालावी, जायरे, इथियोपिया तथा विएतनाम से प्रव्रजन करके आया हो।

परन्तु यदि उम्मीदवार उक्त में से किसी वर्ग (ख), (ग), (घ) तथा (ङ) से हो तो उनके पक्ष में भारत सरकार द्वारा जारी किया गया पात्रता प्रमाण पत्र होना चाहिए।

ऐसे उम्मीदवार को भी साक्षात्कार में प्रवेश दिया जा सकता है जिनके मामले में पात्रता प्रमाणपत्र आवश्यक हो किंतु भारत सरकार द्वारा उसके संबंध में पात्रता प्रमाणपत्र जारी किए जाने के बाद ही उसको नियुक्ति प्रस्ताव भेजा जा सकता है।

ii) आयु सीमाएं (01.12.2018 को): दिनांक 01 दिसम्बर 2018 को उम्मीदवार की आयु पूरे 25 वर्ष की हो जानी चाहिए किंतु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए अर्थात उम्मीदवार का जन्म 01 दिसम्बर 1983 से पहले तथा 01 दिसम्बर 1993 के बाद का नहीं होना चाहिए।

उक्त अधिकतम आयु सीमा सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए है। निर्धारित ऊपरी आयु सीमा में छूट इस प्रकार है:

(i) अनुसूचित जाति अथवा अनुसूचित जनजाति से संबंधित उम्मीदवारों के लिए अधिकतम पांच वर्ष यदि पद उनके लिए आरक्षित हैं।

(ii) लागू आरक्षण प्राप्त करने के लिए पात्र अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित उम्मीदवारों के मामले में अधिकतम तीन वर्ष यदि पद उनके लिए आरक्षित हैं।

(iii) वे उम्‍मीदवार जो 1 जनवरी 1980 और 31 दिसंबर 1989 के बीच की अवधि में साधारणतया जम्‍मू और कश्‍मीर राज्य के अधिवासी रहे के लिए अधिकतम पांच वर्ष।

(iv) भूतपूर्व सैनिकों के लिए अधिकतम पांच वर्ष जिसमें वे कमीशन प्राप्त अधिकारी तथा आपातकालीन कमीशन - प्राप्‍त अधिकारी/अल्‍पावधि सेवा कमीशन प्राप्‍त अधिकारी शामिल हैं जो 01 अगस्त 2018 को न्यूनतम पांच वर्ष की सेवा के बाद निम्नानुसार सेवा मुक्त किए गए हों:

  1. कार्यकाल पूरा होने पर (इनमें वे भी शामिल हैं जिनका कार्यकाल 01 अगस्त 2018 से एक वर्ष में पूरा होने वाला है) किंतु इनमें वे भूतपूर्व सैनिक शामिल नहीं है जिन्‍हें कदाचार या अकुशलता के कारण सेवामुक्‍त किया गया है; अथवा

  2. जो सैन्‍य सेवा से संबंधित अपंगता; अथवा

  3. अशक्‍तता के कारण सेवामुक्‍त कर दिए गए हों.

(v) आपातकालीन कमीशन - प्राप्‍त अधिकारियों/अल्‍पावधि सेवा कमीशन प्राप्‍त अधिकारियों के उन मामलों में अधिकतम पांच वर्ष जिन्होंने 01 अगस्त 2018 को पांच वर्ष की मिलीटरी सेवा में प्रारंभिक अवधि पूरी कर ली है लेकिन जिनका कार्यकाल पांच वर्ष से आगे की अवधि के लिए बढ़ाया गया है तथा जिनके मामले में रक्षा मंत्रालय इस आशय का प्रमाणपत्र जारी करता है कि वे सिविल रोजगार के लिए आवेदन कर सकते हैं तथा चयन होने पर नियुक्ति का प्रस्‍ताव प्राप्त होने की तारीख से तीन महीने के नोटिस पर उन्‍हें कार्यमुक्‍त कर दिया जाएगा।

(vi) बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए अधिकतम 10 वर्ष। संबंधित पद के अंतर्गत रिक्तियों के आरक्षण के अधीन अजा/अजजा वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अधिकतम 15 वर्ष तथा अन्य पिछड़े वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अधिकतम 13 वर्ष। इसके अतिरिक्त बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए ऊपरी आयुसीमा में छूट इस बात के अधीन होगी कि पदों को ऐसी दिव्यांगताओं के लिए उपयुक्त चिन्हित किया गया हो।

(vii) पात्र स्टाफ उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा में छूट दिनांक 20 दिसंबर 2013 के भारिबैं परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-14 के अनुसार होगी।

टिप्पणी I: अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित वे उम्मीदवार जो भूतपूर्व सैनिकों, जम्मू एवं कश्मीर राज्य के अधिवासी वर्ग के अंतर्गत आते हैं, वे दोनों वर्गों के अंतर्गत आयु सीमा में संचयी छूट के लिए पात्र होंगे।

टिप्पणी II: भूतपूर्व सैनिक पद उन व्यक्तियों पर लागू होगा जिन्हें समय-समय पर यथासंशोधित भूतपूर्व सैनिक (सिविल सेवा और पद में पुन: रोजगार) नियम 1979 के अंतर्गत भूतपूर्व सैनिक के रूप मे पारिभाषित किया गया है।

टिप्पणी III: भूतपूर्व सैनिक तथा कमीशन अधिकारी जो स्वयं के अनुरोध पर सेवामुक्त हुए हैं उन्हें उपर्युक्त पैरा 3 II (ख) (v) के अंतर्गत आयु में छूट नहीं दी जाएगी।

टिप्पणी IV: उक्त पैरा 3 II (ख) (vi) के अंतर्गत आयु में छूट का प्रावधान होने के बावजूद बैंचमार्क दिव्यांगता वाले उम्मीदवार की नियुक्ति हेतु पात्रता पर तभी विचार किया जा सकता है जब वह (बैंक द्वारा निर्धारित शारीरिक परीक्षण के बाद) बैंक द्वारा शारीरिक रूप से अक्षम उम्मीदवारों को आवंटित संबंधित सेवाओं/ पदों के लिए निर्धारित शारीरिक एवं चिकित्सा मानकों की अपेक्षाओं को पूरा करता हो।

iii) न्यूनतम शैक्षिक अर्हताओं और कार्य अनुभव का ब्यौरा (01.12.2018 को):

क्रम सं. पद पदनाम अर्हता प्राप्त करने के बाद पर्यवेक्षी/प्रबंधन भूमिका में कार्य अनुभव (01.12.2018 को) (अनुभव के लिए परिवीक्षा अवधि को नहीं गिना जाएगा)
1. ट्रेड फाइनेंस बैंक एग्जामिनर / पर्यवेक्षी प्रबंधक अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से अर्थशास्त्र या वाणिज्य / एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ) में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में पांच वर्ष के अनुभव के साथ बैंकिंग / वित्तीय क्षेत्र में क्रेडिट और फोरेक्स / व्यापार वित्त कार्य के क्षेत्रों में कम से कम दो वर्षों का अनुभव (निर्यात सहित व्यापार वित्त कार्य में काम करने का अनुभव / आयात / विदेशी प्रेषण / एलसी / बीजी बेहतर होगा)
2. कॉर्पोरेट लेंडिंग बैंक एग्जामिनर / पर्यवेक्षी प्रबंधक अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से अर्थशास्त्र या वाणिज्य / एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ) में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में पांच वर्ष के अनुभव के साथ कॉर्पोरेट क्रेडिट प्रोसेसिंग / मूल्यांकन के क्षेत्रों में कम से कम दो वर्षों का अनुभव (क्रेडिट विभाग में काम करने का अनुभव)
3. ट्रेजरी बैंक एग्जामिनर / पर्यवेक्षी प्रबंधक अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से अर्थशास्त्र या वाणिज्य / एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ) में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में पांच वर्ष के अनुभव के साथ ट्रेज़री परिचालन के क्षेत्र में दो वर्षों का अनुभव
4. रिटेल लेंडिंग बैंक एग्जामिनर / पर्यवेक्षी प्रबंधक अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से अर्थशास्त्र या वाणिज्य / एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ) में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में पांच वर्ष के अनुभव के साथ रिटेल क्रेडिट की प्रोसेसिंग /मूल्यांकन के क्षेत्रों में कम से कम दो वर्षों का अनुभव (क्रेडिट विभाग में कार्य करने का अनुभव)
5. एनालिटिक्स एवं सामान्य बैंकिंग एनालिस्ट अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से अर्थशास्त्र या वाणिज्य / एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ) में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों में समान्य बैंकिंग परिचालन के क्षेत्र में पांच वर्ष का अनुभव
6. अकाउंटिंग (आइएफआरएस) अकाउंट विशेषज्ञ अनिवार्य योग्यता: - एक मान्यता प्राप्त भारतीय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से सीए/आईसीडब्ल्यूए/ वाणिज्य में स्नातकोत्तर डिग्री एमबीए / पीजीडीबीए / पीजीपीएम / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ)
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), सीए / आईसीडब्ल्यूए/एलएलबी/एलएलएम/ आईएफआरएस प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में वित्तीय रिपोर्टिंग / लेखांकन के क्षेत्रों में पांच वर्ष का अनुभव
7. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी आईटी एग्जामिनर/आईटी एनालिस्ट/आईटी लेखा परीक्षक अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर साइंस/आई टी/ इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए के साथ सूचना सुरक्षा / आईटी जोखिम प्रबंधन / सूचना आश्वासन / साइबर सुरक्षा और डिजिटल धमकी प्रबंधन में विशेषज्ञता
वांछनीय योग्यता- सीआईएसए, सीआईएसएसपी, सीआईएसएम, सीईएच जैसे व्यावसायिक प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / दूरसंचार कंपनियों में सूचना सुरक्षा में पांच वर्ष का अनुभव
8. स्ट्रेस टेस्टिंग एनालिस्ट अनिवार्य योग्यता - गणित / सांख्यिकी / एकोनोमेट्रिक्स / कॉमर्स / अर्थशास्त्र / गणितीय सांख्यिकी / मात्रात्मक अर्थशास्त्र / मात्रात्मक वित्त में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय योग्यता - एफआरएम (जीएआरपी), पीआरएम
अनिवार्य अनुभव - आर्थिक और एकोनोमेट्रिक्स मॉडलिंग टूल्स और तकनीकों के ज्ञान के साथ वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में क्रेडिट जोखिम डोमेन में तीन वर्षों सहित पांच वर्ष का अनुभव
9. मेनफ्रेम सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर/ वर्चुअलाईज्ड एनविरामेंट एडमिनिस्ट्रेटर/ डाटाबेस एडमिनिस्ट्रेटर सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर साइन्स / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए
वांछनीय योग्यता - संबंधित पदों के लिए वीसीपी, ओसीपी, आईबीएम जेड / श्रृंखला व्यावसायिक प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवाओं संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / टेलीकॉम कंपनियों में मेनफ्रेम (जेड / ओएस) / वर्चुअलाइजेशन मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर / ओरेकल / डीबी 2 के कार्यान्वयन, विन्यास, परिचालन और रखरखाव के क्षेत्रों में पांच वर्ष का अनुभव
10. एप्लीकेशन / मिडलवेयर विशेषज्ञ- एप्लीकेशन मिडलवेयर एडमिनिस्टरेटर - आईबीएम एमक्यू / ओरेकल वेब लॉजिक / जेबॉस / डब्ल्यूएएस प्रोजेक्ट एडमिनिस्ट्रेटर अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर विज्ञान / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए
वांछनीय योग्यता - डब्ल्यूएएस, वेब लॉजिक, जेबॉस, आईबीएम-एमक्यू में ओईएम प्रमाणित
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / दूरसंचार कंपनियों में कंप्यूटर इंजीनियरिंग, कोडिंग, इंटरफ़ेस स्थापना, स्क्रिप्ट एप्लिकेशन, स्टोरेज प्रबंधन, मल्टिपल ऑपरेटिंग सिस्टम (जैसे विंडोज, यूनिक्स और लिनक्स), और आरडीबीएमएस सिस्टम, प्रोजेक्ट लाइफसाइकल के सभी चरणों के माध्यम से प्रोजेक्ट प्रबंधन, एफआईएसएमए और संबंधित सुरक्षा नियंत्रण के क्षेत्र में पांच वर्ष का अनुभव
11. नेटवर्क एक्सपर्ट नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर विज्ञान / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए
वांछनीय योग्यता - सीसीएनए / सीसीएनपी / सीसीडीपी / सीआईएसएसपी या समकक्ष में प्रमाणन
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / दूरसंचार कंपनियों में आईटी क्षेत्र में बड़े नेटवर्क को संभालने का पांच वर्ष का अनुभव और राऊटिंग और स्विचिंग प्रोटोकॉल का पर्याप्त ज्ञान
12. वेब डिज़ाइनर वेब डिज़ाइनर अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर विज्ञान / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए
वांछनीय योग्यता - वेब डिज़ाइनिंग में व्यावसायिक डिप्लोमा / प्रमाण पत्र
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों में डेटा एनालिटिक्स सुविधाओं के साथ वेब डिज़ाइनिंग / ई-चैनल अनुप्रयोगों, ओपन सोर्स डेटा विज़ुअलाइजेशन तकनीक (जैसे आर-शाइनी), वेब टेक्नोलॉजीज, वेब सुरक्षा, जावा का प्रयोग, जेईई, सी#, .एनईटी, एपीआई, ओपन सोर्स फ्रेमवर्क-स्ट्रूट्स, हाइबरनेट, स्प्रिंग, जावा फेसेस, मिडलवेयर-एमक्यू ब्रोकर, एमक्यू, एसओए फ्रेमवर्क, यूआई/यूएक्स मानक जिसमें एचटीएमएल5, रिस्पोंसिव वेब फ्रेमवर्क, वेब सेवाएं-आरईएसटी स्टाइल के क्षेत्रों में पांच वर्ष का अनुभव
13. सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर-बिग डाटा और ओपन सोर्स सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर (बिग डाटा) अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर विज्ञान / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए
वांछनीय योग्यता - एमसीपी / एमसीएसई, सीसीएनए
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / दूरसंचार कंपनियों में ओपन सोर्स टेक्नोलॉजीज जैसे हडूप, स्पार्क और अन्य ऐसी प्रौद्योगिकियों, बड़े डेटा के लिए सुरक्षा प्रणालियों और ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म जैसे केर्बेरोस, वेब क्रॉलिंग तकनीकों, स्क्रिप्टिंग लैंगवेजेज़ जैसे आर, पायथन में अनुसंधान, डिजाइनिंग, बिल्डिंग, रखरखाव, निगरानी और प्रबंधन का पाँच वर्ष का अनुभव
14. बिहेवियरल साइंटिस्ट बिहेवियरल साइंटिस्ट अनिवार्य योग्यता - सामाजिक विज्ञान / मनोविज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री के साथ प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण (एनएलपी) में डिप्लोमा / प्रमाणपत्र
अनिवार्य अनुभव - वेब क्रॉलिंग, भावनात्मक विश्लेषण और समष्टि आर्थिक डेटा के लिए भाषाई शब्दों का ज्ञान और वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में इसकी व्याख्या या व्यवहार विज्ञान के क्षेत्र में किसी प्रतिष्ठित भारतीय / विदेशी विश्वविद्यालय में अकादमिक और अनुसंधान के क्षेत्रों में तीन वर्ष का अनुभव
15. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर अनिवार्य योग्यता - कंप्यूटर विज्ञान / आईटी / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स में बीई / बी टेक / एम टेक या एमसीए के साथ सूचना सुरक्षा / आईटी जोखिम प्रबंधन / सूचना एशुरेंस / साइबर सुरक्षा और डिजिटल थ्रेट प्रबंधन में विशेषज्ञता।
वांछनीय योग्यता - व्यावसायिक प्रमाणन जैसे सीआईएसए, सीआईएसएसपी, सीआईएसएम, सीईएच, सीसीएनए, सीसीएनपी
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों / बड़ी आईटी सेवा कंपनियों / दूरसंचार कंपनियों में सिस्टम एड्मिनिस्ट्रेटर और / या सूचना सुरक्षा में पांच वर्ष का अनुभव
16. अंतरराष्ट्रीय करार/ कराधान मामले विधि विशेषज्ञ अनिवार्य योग्यता – एडवोकेट के रूप में नामांकन के उद्देश्य से भारत की बार काउंसिल द्वारा मान्यता प्राप्त विधि में स्नातकोत्तर डिग्री
वांछनीय योग्यता - सीएफए (यूएसए) / सीए / आईसीडब्ल्यूए / सीएस / आईएफआरएस प्रमाणपत्र
अनिवार्य अनुभव - वाणिज्यिक बैंकों / बड़ी वित्तीय कंपनियों / वित्तीय सेवा संगठनों में या कानूनी परामर्श फर्म के साथ अंतर्राष्ट्रीय समझौतों / कराधान के क्षेत्रों में पांच वर्ष का अनुभव

टिप्पणी I : न्यूनतम पास प्रतिशत आवश्यकताएं

i) जहां स्नातकोत्तर आवश्यक योग्यता है: स्नातकोत्तर डिग्री परीक्षा में सामान्य / अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के लिए न्यूनतम 55% अंक (एससी / एसटी / पीडब्ल्यूबीडी के लिए 50% यदि उनके लिए रिक्तियां आरक्षित हैं) की आवश्यकता है और

ii) जहां स्नातक आवश्यक योग्यता है: डिग्री परीक्षा में सामान्य / अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी के लिए न्यूनतम 60% अंक (एससी / एसटी / पीडब्ल्यूबीडी के लिए 50% यदि उनके लिए रिक्तियां आरक्षित हैं) ।

उपर्युक्त अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / पीडब्ल्यूबीडी उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता में छूट संबंधित पद और श्रेणी के तहत रिक्तियों के आरक्षण और उक्त अधिसूचना के अनुसार पीडब्ल्यूबीडी के पदों की पहचान के अधीन है।

टिप्पणी II: उम्मीदवार के पास भारत के केंद्र या राज्य विधानमंडल द्वारा निगमित किसी विश्वविद्यालय की या संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित या विश्वविद्यालय अनुदान आयोग अधिनियम, 1956 की धारा 3 के अधीन विश्वविद्यालय के रूप में मानी गई किसी अन्य शिक्षा संस्था की डिग्री अथवा भारतीय विश्वविद्यालय संघ द्वारा मान्यताप्राप्त विदेशी विश्वविद्यालय से समकक्ष अर्हता होनी चाहिए।

टिप्पणी III: कुछ विश्वविद्यालय/ संस्थान/बोर्ड श्रेणी अथवा अंकों के प्रतिशत नहीं अपितु समग्र ग्रेड प्वाइंट प्रदान करते हैं (उदाहरण के लिए सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई आदि)। यदि विश्वविद्यालय/ संस्थान/बोर्ड द्वारा समग्र ग्रेड प्वाइंटों को अंकों के प्रतिशत में बदलने का मानदंड बताया जाता है तो उसे स्वीकार किया जाएगा। तथापि यदि विश्वविद्यालय/संस्थान/बोर्ड द्वारा डिग्री/उत्तीर्ण होने संबंधी प्रमाणपत्र में समग्र ग्रेड प्वाइंटों को अंकों के प्रतिशत में बदलने का मानदंड नहीं बताया जाता है तो अपारिभाषित मानदंड (मानदंडों) की गणना निम्नानुसार की जाएगी:

समकक्ष सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई अथवा कोई और शब्दावली जो 10 प्वाइंट स्केल पर दी गई है अंकों का समग्र प्रतिशत
6.75 60%
6.25 55%
5.75 50%

समग्र ग्रेड प्वाइंट अथवा अंकों के प्रतिशत, जहां दिए गए हों, का अभिप्राय पाठ्यक्रम की पूरी अवधि के होंगे। जहां समग्र ग्रेड प्वाइंट (सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई, आदि) 10 के अलावा अन्य किसी संख्या में से दिए गए हों तो इनका 10 में से सामान्यीकरण किया जाएगा तथा उसकी गणना उक्तानुसार की जाएगी।

टिप्पणी IV: अर्हता प्राप्त करने के बाद कार्य अनुभव या समकक्ष संवर्ग अधिकारी के रूप में पर्यवेक्षी/प्रबंधन/कार्यकारी स्तर पर या समकक्ष संवर्ग में ही होना चाहिए। इसके अलावा अनुभव के लिए प्रशिक्षण/परिवीक्षा अवधि को नहीं गिना जाएगा। साक्षात्कार के लिए चुने गए उम्मीदवारों को साक्षात्कार से पहले संबन्धित संगठन से प्रमाण पत्र करना होगा जिसमें अनुभव, परिवीक्षा / प्रशिक्षण / आदि की अवधि, पदनाम / भूमिका / प्रबंधन स्तर, उक्त पद के लिए कार्य अनुभव आवश्यकताओं के तहत दिए गए कार्य क्षेत्र का स्पष्ट रूप से उल्लेख हो। ऑनलाइन आवेदन के समय सभी उम्मीदवारों को इस संबंध में वचनपत्र देना होगा।

3. नियम और शर्तें :

(a) अवधि : शुरुआत में तीन वर्ष की अवधि के लिए नियुक्ति पूर्णकालिक संविदा आधार पर होगी, जो आगे बढ़ाई जा सकती है, अधिकतम पांच वर्ष के कार्यकाल के अधीन होगी। संविदा किसी भी पक्ष से एक महीने की नोटिस अवधि से समाप्त हो सकता है।

नियुक्त उम्मीदवारों को समय-समय पर अपने ज्ञान और कौशल को अपग्रेड करना होगा। संविदा जारी रहने संबंधी निर्णय लेने के लिए संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों के कार्यनिष्पादन की वार्षिक समीक्षा की जाएगी। संविदा नियुक्ति बैंक में संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों के लिए लागू अन्य नियमों और शर्तों द्वारा शासित होगी।

(b) पारिश्रमिक : समेकित पारिश्रमिक प्रति वर्ष 21.60 लाख (संशोधन-पूर्व) (आवास के बिना) जो कर के अधीन होगा। हालांकि, बैंक अपने विवेक से उच्च शैक्षिक या पेशेवर योग्यता / अनुभव वाले उम्मीदवारों को उच्च क्षतिपूर्ति देने का अधिकार सुरक्षित रखता है।

(c) छुट्टी :

  1. संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को प्रति वर्ष 30 दिनों की दर से छुट्टी की अनुमति दी जाएगी (एक वर्ष से अधिक किसी भी आंशिक अवधि के लिए छुट्टी की गणना आनुपातिक आधार पर की जाएगी)।

  2. संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को बैंक की प्रशासनिक सुविधा के अधीन छुट्टी लेने की अनुमति दी जाएगी।

  3. उपर्युक्त अवधि से अधिक किसी भी अनुपस्थिति को वेतन के बिना छुट्टी के रूप में माना जाएगा।

(d) यात्रा व विराम भत्ता : संविदा पर नियुक्त उम्मीदवार मुख्यालय के बाहर उनके द्वारा किए गए आधिकारिक दौरे के लिए बैंक के समकक्ष ग्रेड के अधिकारियों के लिए स्वीकार्य टीए / एचए के हकदार होंगे।

(e) आवास : संविदा नियुक्ति की अवधि के दौरान, बैंक संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को कोई आवास प्रदान नहीं करेगा।

(f) आचरण, अनुशासन और अपील: संविदा नियुक्ति की अवधि के दौरान, संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को 'आचरण संहिता' द्वारा शासित होंगे।

(g) सोडेक्सो कूपन : संविदा नियुक्ति की अवधि के दौरान, संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को उनकी इच्छा के अधीन, पूरी लागत पर लाउंज सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए सोडेक्सो कूपन प्रदान किए जा सकते हैं।

(h) मोबाइल फोन सुविधा : अपने संविदा की नियुक्ति की अवधि के दौरान, संविदा पर नियुक्त उम्मीदवारों को उनके कार्य के कार्यकाल और प्रकृति के आधार पर मोबाइल फोन सुविधा प्रदान की जा सकती है। हालांकि, उन्हें अपने संविदा की विस्तार, यदि कोई हो, सहित पूरी अवधि के दौरान केवल एक बार हैंडसेट प्रदान किया जाएगा। मोबाइल हैंडसेट की लागत और कॉल शुल्कों की प्रतिपूर्ति उस ग्रेड के अनुरूप होगी जिसमें उन्हें नियुक्त किया जाता है।

(i) अधिवर्षिता लाभ : संविदा पर नियुक्त उम्मीदवार अधिवर्षिता लाभ के लिए पात्र नहीं होंगे।

(j) तैनाती : बैंक उम्मीदवारों को भारत में किसी भी केंद्र में तैनात करने का अधिकार सुरक्षित है।

(k) दवाखाना : संविदा पर नियुक्त उम्मीदवार कार्यालय में दवाखाना की सुविधा के लिए पात्र होंगे।

4. जॉब प्रोफाइल और पदनाम :

क्रम सं.

पद

पदनाम

जॉब प्रोफाइल

1.

ट्रेड फाइनेंस

बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक

  1. बैंकों द्वारा दिए गए व्यापार वित्त उत्पाद सूट का आकलन

  2. व्यापार वित्त लेनदेन के कारण उत्पन्न जोखिमों के प्रबंधन के लिए आंतरिक नियंत्रण ढांचे का आकलन

  3. यह मूल्यांकन करना कि व्यापार वित्त गतिविधियों से जुड़े जोखिम बैंक द्वारा उचित रूप से कैप्चर किए जाते हैं या

  4. विभिन्न व्यापार वित्त उत्पादों से संबंधित दस्तावेजों का आकलन और यह पता करना कि क्या ये विनियामक दिशानिर्देशों के अनुरूप हैं और इससे विचलन की घटनाओं की पहचान करना

  5. बैंक की कुल राजस्व स्ट्रीम के साथ व्यापार वित्त के माध्यम से अर्जित आय का विश्लेषण करना और राजस्व लीकेज की घटनाओं की पहचान करना और रिपोर्ट करना

2.

कॉर्पोरेट लेंडिंग

बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक

  1. क्रेडिट मूल्यांकन प्रक्रिया का आकलन करना और नीति स्तर पर कमियों की पहचान करना

  2. अनुमोदित क्रेडिट नीति से विचलन संबंधी घटनाओं की सूची की पहचान करना

  3. क्रेडिट मूल्यांकन प्रक्रिया, संवितरण, निगरानी और खाता वर्गीकरण चरणों के दौरान विनियामक मानदंडों के साथ-साथ आंतरिक दिशानिर्देशों के पालन का आकलन करना

  4. सुरक्षा पूर्णता में कमी, यदि कोई हो, की पहचान करना

  5. विनियामक रिपोर्टिंग की शुद्धता के सत्यापन के साथ एनपीए की पहचान करना

3.

ट्रेज़री

बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक

  1. बैंक के बाजार जोखिम का आकलन

  2. विभिन्न पोर्टफोलियो – डेरिवेटिव्स, निवेश इत्यादि में निवेश का आकलन और विचलन की घटनाएँ

  3. बैंक की ऑफ बैलेंस शीट प्रोफ़ाइल का आकलन

  4. बैंक के लिए जोखिम सीमा की स्थापना की प्रक्रिया की जांच करना

  5. मूल्यांकन करना कि बाजार जोखिम के संबंध में आंतरिक नियंत्रण ढांचा उचित है या नहीं

4.

अकाउंटिंग

अकाउंट स्पेशलिस्ट

  1. संव्यवहार विश्लेषण सहित तुलन पत्र विश्लेषण

  2. नकदी प्रवाह और निधि प्रवाह विश्लेषण

  3. एलएफएआर और अन्य लेखापरीक्षा से विश्लेषणात्मक रिपोर्ट संकलित करना

  4. भारतीय एएस / आईएफआरएस कार्यान्वयन

5.

रिटेल लेंडिंग

बैंक एग्जामिनर/ पर्यवेक्षी प्रबंधक

  1. क्रेडिट मूल्यांकन प्रक्रिया का आकलन करना और नीति स्तर पर कमियों की पहचान करना

  2. अनुमोदित क्रेडिट नीति से विचलन संबंधी घटनाओं की सूची की पहचान करना

  3. क्रेडिट मूल्यांकन प्रक्रिया, संवितरण, निगरानी और खाता वर्गीकरण चरणों के दौरान विनियामक मानदंडों के साथ-साथ आंतरिक दिशानिर्देशों के पालन का आकलन करना

  4. सुरक्षा पूर्णता में कमी, यदि कोई हो, की पहचान करना

  5. विनियामक रिपोर्टिंग की शुद्धता के सत्यापन के साथ एनपीए की पहचान करना

6.

एनालिटिक्स और सामान्य बैंकिंग

एनालिस्ट

  1. आंकड़ों की व्याख्या करना, सांख्यिकीय तकनीकों का उपयोग करके परिणामों का विश्लेषण करना और बैंक / बैंकिंग प्रणाली से संबंधित रिपोर्ट उपलब्ध कराना

  2. प्रत्येक बैंक के जोखिम प्रोफाइल को समझना और आरबीएस ढांचे के तहत जोखिम खोज प्रक्रिया को सक्षम करने के लिए ऑफसाइट रिटर्न का विश्लेषण करना

  3. डेटा मॉडल और डेटा संग्रह प्रणाली का विकास और कार्यान्वयन, डेटा विश्लेषणात्मक तकनीकों और उपकरणों व अन्य कार्यनीतियों को लागू करना जो सांख्यिकीय दक्षता और गुणवत्ता को अनुकूलित करते हैं

  4. प्राथमिक या द्वितीयक डेटा स्रोतों से डेटा प्राप्त करना और डेटाबेस / डेटा विश्लेषण प्रणाली का रखरखाव करना

7.

स्ट्रेस टेस्टिंग

एनालिस्ट

  1. क्रेडिट जोखिम, एकाग्रता जोखिम, बाजार जोखिम और तरलता जोखिम से संबंधित क्षेत्रों के लिए आवधिक आधार पर प्रत्येक बैंक का तनाव परीक्षण अभ्यास करना

  2. क्रेडिट(एकाग्रता सहित), बाजार और तरलता जोखिम के अनुसार प्रणाली स्तर पर बैंक के पोर्टफोलियो का बेसलाइन, मध्यम और गंभीर परिदृश्यों के लिए तनाव परीक्षण

  3. तनाव परीक्षण अभ्यास के उद्देश्य से विभिन्न समष्टि-आर्थिक और बैंकिंग संकेतकों के बीच संबंधों को समझना

  4. तनाव परीक्षण अभ्यास के उद्देश्य से प्रासंगिक संकेतकों के लिए बैंक द्वारा प्रस्तुत विवरणियों, बाजार स्रोत आदि से डेटा एकत्र करना

    समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य कार्य
8.

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलोजी

आईटी एग्जामिनर/ आईटी एनालिस्ट / आईटी लेखा परीक्षक

  1. भारतीय रिज़र्व बैंक की विनियमित संस्थाओं (आरई) (मुख्य रूप से अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों) की आईटी जांच करना

  2. प्रणालियों, अनुप्रयोगों, नेटवर्क, डेटाबेस, आईटी अवसंरचना, सुरक्षा समाधान, प्रक्रियाओं और तौर-तरीकों, घटना, इंसीडेंट और लॉग विश्लेषण का साइबर सुरक्षा आकलन (ऑनसाइट पर्यवेक्षण); आवधिक / तदर्थ विवरणियों, इंसीडेंट से निपटने का ऑफसाइट पर्यवेक्षण, निरीक्षण रिपोर्ट का अनुपालन आकलन, अनुवर्ती कार्रवाई, गुणवत्ता मूल्यांकन, बाहरी लेखापरीक्षा रिपोर्ट की समीक्षा;

  3. विभिन्न हितधारकों के साथ बैठकें आयोजित करने सहित समन्वय, विशिष्ट समितियों / समूहों के लिए सचिवालय संबंधी कार्य

  4. आईटी / साइबर सुरक्षा क्षेत्रों में नीति निर्माण / अद्यतनीकरण और साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में अनुसंधान और गतिविधियों को दर्ज करना

  5. इंसीडेंट से निपटना व निगरानी और ऑफसाइट निगरानी

  6. साइबर घटनाओं की निरंतर आधार पर रिपोर्टिंग की जांच करना और प्रयोज्यता के अनुसार संबन्धित रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए बैंकों से अनुपालन कराना

  7. इंसीडेंट कार्य-प्रणाली की समीक्षा करना और जरूरतों के आधार पर परामर्श तैयार करना और बैंकों को परिचालित करना

  8. सभी परिपत्रों, परामर्शों, आईटी जांच रिपोर्टों, विशिष्ट तदर्थ और आवधिक विवरणियों के अनुपालन की निगरानी

  9. ड्राफ्ट आईटी जांच रिपोर्टों, कोलेट इनपुट और ड्राफ्ट समिति / समूह रिपोर्टों की गुणवत्ता जांच करना

  10. विनियमित संस्थाओं द्वारा प्रस्तुत विवरणियों (आवधिक / तदर्थ) का विश्लेषण, समीक्षा करना

  11. विभिन्न समिति की बैठकों, सरकारी सम्प्रेषण का समन्वयन करना

  12. इस प्रक्रिया में विभिन्न हितधारकों (सरकार, अन्य विभागों, विभिन्न समितियों / समूहों के सदस्यों) के साथ सम्प्रेषण

  13. साइबर सुरक्षा के क्षेत्र की गतिविधियों और धमकी की आसूचना पर लगातार अद्यतन रहना

  14. नई गतिविधियों के आधार पर संबन्धित आरबीआई दिशानिर्देशों या परिपत्रों में उन्नयन के क्षेत्रों में कार्य करना

  15. आईटी परियोजनाओं का संचालन

9.

मेन्फ्रेम सिस्टम एडमिनिस्टरेटर/वर्चुअलाईज्ड एनविरामेंट एडमिनिस्टरेटर/ डाटाबेस एडमिनिस्टरेटर

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर
(बिग डाटा)

  1. z VM, Linux on system z, GDPS / XRC, GDPS / PPRC का प्रशासन और रखरखाव, z196 की परिस्थिति।

  2. z/VM, z/Linux और अन्य उत्पादों से संबंधित तकनीकी समस्याओं का निवारण करने के लिए सहायता प्रदान करना और दिन-प्रतिदिन ऑपरेशन के लिए सर्वोत्तम प्रथाओं का पालन करना और GDPS का उपयोग करते हुए BCP/DR ऑपरेशन।

  3. मेनफ्रेम सॉफ्टवेयर, सॉफ्टवेयर संस्करण अपग्रेड, पैच अपग्रेड गतिविधियों के संबंध में कार्यान्वयन और सहायक गतिविधियों को करना।

  4. उपयोगकर्ता अभिगम प्रबंधन और घटना प्रबंधन

  5. सिस्टम की सक्रिय निगरानी और सभी हार्डवेयर, सर्वर संसाधन, सिस्टम और प्रमुख प्रक्रियाओं की उपलब्धता, सिस्टम और एप्लिकेशन लॉग की समीक्षा, और निर्धारित कामों को पूरा करना सुनिश्चित करना।

  6. सिस्टम प्रशासन कार्यों के लिए अभिनव और स्वचालित दृष्टिकोण की सिफारिश करना। संसाधनों का लाभ उठाने वाले दृष्टिकोणों की पहचान करना और बड़े पैमाने की अर्थव्यवस्था प्रदान करना।

  7. क्षमता योजना का समर्थन करने के लिए आवधिक प्रदर्शन समीक्षा करना।

  8. समस्या हल और समस्या निवारण के लिए विक्रेताओं की टीम का प्रबंध करना।

10.

नेटवर्क एक्सपर्ट

नेटवर्क एडमिनिस्ट्रेटर

  1. भौतिक और अप्रत्यक्ष एन्वायरमेंट पर आवश्यकता के अनुसार उचित सुरक्षा के साथ नए एप्लिकेशन के लिए डिजाइन और नेटवर्क नियोजन करना।

  2. सभी सुरक्षा और नेटवर्क उपकरणों और प्रणालियों का व्यवस्थापन और समनुरूप बनाना।

  3. संपूर्ण डेटा केंद्र नेटवर्क का प्रशासन और निगरानी।

  4. नेटवर्क के विस्तार के लिए नेटवर्क और सुरक्षा उपकरणों और दूरसंचार लिंक जिसमें राउटर, स्विच, लोड-बैलेंसिंग इत्यादि शामिल है, की निगरानी और रखरखाव।

  5. विक्रेताओं के साथ समन्वय करके नेटवर्क समस्याओं का निवारण और समाधान।

  6. नेटवर्क की सक्रिय निगरानी और प्रशासन और सभी उपयोगकर्ताओं और एप्लिकेशन के लिए नेटवर्क कनेक्टिविटी सुनिश्चित करना।

  7. नेटवर्क और सुरक्षा डिजाइन और आर्किटेक्चर की समीक्षा।

  8. इंटरनेट लिंक का प्रबंधन।

  9. IPv6 का कार्यान्वयन।

  10. घटना प्रबंधन।

  11. नेटवर्क निगरानी प्रणाली के लिए फाइन ट्यूनिंग और नेटवर्क पैरामीटर में सुधार करना।

  12. समस्या हल और समस्या निवारण के लिए विक्रेताओं की टीम का प्रबंधन।

11.

एप्लीकेशन / मिडलवेयर विशेषज्ञ-आईबीएम एमक्यू/ओरेकल वेब लॉजिक/जेबॉस/डब्ल्यूएएस

प्रोजेक्ट एडमिनिस्ट्रेटर

  1. सेवा स्तर समझौतों के अनुसार व्यापार में सहायक एप्लिकेशन का रख-रखाव।

  2. मिडलवेयर (जावा) एप्लिकेशन को इंस्टॉल / कॉन्फ़िगर / समस्या निवारण / ट्यून करने के लिए ज्ञान।

  3. सॉफ़्टवेयर अपडेट / पैच (WAS / JBoss / Apache MQ, JAVA) को लागू करने के लिए ज्ञान होना जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि समर्थित सॉफ़्टवेयर स्तर पर एन्वायरमेंट बेहतर काम कर रहे हैं।

  4. क्लस्टर फ़ेल ओवर और उच्च उपलब्धता वाले मिडलवेयर सॉफ़्टवेयर का प्रबंधन

  5. प्रति परिवर्तन नियंत्रण प्रक्रियाओं के लिए एप्लिकेशन में निर्धारित और आपातकालीन परिवर्तन करना।

  6. एप्लिकेशन उपलब्धता आवश्यकताओं में सहायक आवश्यक मिडलवेयर रखरखाव करना।

  7. अधिग्रहण और डीकमिशन सहित सम्पूर्ण जीवन चक्र में नए और मौजूदा मिडलवेयर वातावरण का विकास और सहायता प्रदान करना

  8. उच्च उपलब्धता के लिए कॉन्फ़िगर करना और महत्वपूर्ण व्यावसायिक एप्लिकेशन के लिए आपदा रिकवरी करना।

  9. एप्लिकेशन की उपलब्धता जैसे एप्लिकेशन क्लस्टर, को समर्थन देने के लिए उन्नत सुविधाओं की सहायता प्रदान करना।

  10. अन्य ऐड्मिनिस्ट्रेटर और डेवलपर्स को मेंटर करना जो मिडलवेयर सॉफ्टवेयर के साथ काम करते हैं जिससे एक स्थिर और सुरक्षित वातावरण प्रदान करते हुए हमारी प्रक्रियाओं में स्थिरता सुनिश्चित की जा सके।

  11. समस्याओं को हल करने के लिए अन्य टीमों (नेटवर्क, डेटाबेस टीम और सुरक्षा टीम) के साथ काम करना।

  12. समस्या हल और समस्या निवारण के लिए विक्रेताओं की टीम का प्रबंधन करना।

  13. सौंपी गए नौकरी से संबंधित अन्य कर्तव्यों का पालन करना।

  14. टेस्ट स्क्रिप्ट को विकसित और बनाए रखना और सभी स्क्रिप्ट का उचित क्रियान्वयन सुनिश्चित करना।

  15. टेस्ट परिणाम को उचित लॉग और / या ट्रैकिंग सिस्टम में दर्ज करना।

  16. कार्यविधि और प्रक्रियाओं पर सभी प्रलेखन की उपलब्धता सुनिश्चित करना और नियमित रूप से अद्यतन करना।

  17. विभिन्न प्रकार के सिस्टम इंजीनियरिंग कार्यों और गतिविधियों को स्वतंत्र रूप से करना।

  18. समस्या हल और समस्या निवारण के लिए विक्रेताओं की टीम का प्रबंधन करना।

  19. सौंपी गयी अन्य ड्यूटी।

12.

वेब डिज़ाइनर

वेब डिज़ाइनर

  1. DBIE / SAARC FINANCE पोर्टल की वेबसाइट को संशोधित करना।

  2. वेबसाइट को अधिक गतिशील, प्रतिक्रियाशील और मल्टी-डिवाइस संगत बनाना।

  3. केंद्रीकृत सूचना प्रबंधन प्रणाली (CIMS) के वेब पोर्टलों को डिजाइन और कार्यान्वित करना।

  4. विज़ुअलाइज़ेशन के लिए स्टैंडअलोन टूल का विकास करना (विभिन्न डेटा आयातकों या बैंकों जैसे निर्यातकों के दूरस्थ उपयोगकर्ता या ग्राहकों के साथ विश्लेषण साझा करने के लिए उपयोग किया जाएगा)

  5. विभिन्न डेटा विश्लेषण का डैशबोर्ड (विज़ुअलाइजेशन) (DBIE / CIMS पोर्टल पर होस्ट किया गया या बैंक के भीतर विभिन्न हितधारकों के साथ आंतरिक रूप से साझा किया गया)

  6. बाहरी इकाइयों के डेटा प्रसार के लिए एप्लिकेशन प्रोग्राम इंटरफेस (API) डेवलपमेंट।

  7. बाह्य और आंतरिक इकाइयों के साथ डेटा साझा (पुलिंग और पुशिंग) करने के लिए इंटरफेस का डिजाइन और विकास करना।

13.

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर (बिग डाटा)

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर-बिग डाटा और ओपन सोर्स

  1. हडूप रखरखाव और प्रशासन और विकास

  2. स्पार्क रखरखाव और प्रशासन और विकास

  3. स्पार्क मशीन लर्निंग असिस्टेन्स और विकास

  4. भारतीय संदर्भ में बिलियन प्राइस प्रोजेक्ट को अभिग्रहण करने, समाचार लेख इत्यादि जैसे विभिन्न उपयोग मामलों से संबंधित वेब क्रॉलिंग / स्क्रैपिंग गतिविधियां

  5. डेटा के माइग्रेशन के लिए हडूप का उपयोग करना और विभिन्न संरचित स्रोतों से डेटा का नियमित इंजेशन

  6. केर्बेरोस और अन्य सुरक्षा अध्ययन और विकास

  7. बड़े डेटा प्लेटफॉर्म के लिए बैकअप सिस्टम का विकास

14.

बिहेवियरल साइंटिस्ट

बिहेवियरल साइंटिस्ट

  1. शीर्ष भारतीय भाषाओं में रुचि के विभिन्न विषयों पर भावना विश्लेषण के लिए शब्दकोश निर्माण

  2. हितों के विभिन्न विषयों पर टेक्स्ट माईनिंग

  3. भारतीय भाषाओं के लिए प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण (एनएलपी) तकनीकों का अनुकूलन

  4. समाचार विषयों / सोशल मीडिया फ़ीड पर एनएलपी

  5. सूचकांक निर्माण और आर्थिक गतिविधियों के साथ इसे जोड़ना

15.

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी

सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर

  1. ट्रेजरी एप्लिकेशन, स्विफ्ट एप्लिकेशन और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म जैसे रॉयटर्स / ब्लूमबर्ग / कोजेन्सिस इत्यादि का प्रशासन।

  2. सिस्टम की सक्रिय निगरानी और सभी हार्डवेयर, सर्वर संसाधनों, प्रणालियों और प्रमुख प्रक्रियाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करना, सिस्टम और एप्लिकेशन लॉग की समीक्षा, और निर्धारित कार्यों को पूरा करने के लिए सुनिश्चित करना

  3. जहां भी आवश्यक हो, डेटा सेंटर के साथ प्रभावी समन्वय

  4. सिस्टम प्रशासनिक कार्यों के लिए नवीन और स्वचालित तरीकों की सिफारिश करना और ऐसे दृष्टिकोण की पहचान करना जो संसाधनों को लीवरेज और बड़े पैमाने की किफायत प्रदान करते हों

  5. उपयोगकर्ताओं और विक्रेताओं के बीच समन्वय करके एप्लिकेशन के घटनाक्रम और संशोधन की निगरानी

  6. उपयोगकर्ताओं के साथ संयोजन करते हुए उपयोगकर्ता स्वीकृति परीक्षण का संचालन करना और वातावरण में नियोजन को अधिकृत करना

  7. एप्लिकेशन में सिस्टम खामियों और व्यापार तर्क त्रुटियों की पहचान करना और इसके सुधार की निगरानी करना

  8. डेटा केंद्रों के साथ समन्वय करके एप्लिकेशन के उन्नयन और पैच अपडेट का पर्यवेक्षण करना

  9. समस्या के समाधान और समस्या निवारण के लिए विक्रेताओं की टीम का प्रबंधन करना और नेटवर्क समस्याओं के समाधान करना

  10. नई परियोजनाओं के लिए विश्लेषण और खरीद प्रक्रिया की आवश्यकता और मौजूदा परियोजनाओं के लिए रिफ्रेश / आवर्धन

  11. परिवर्तन अनुरोधों के लिए प्रयास प्राक्कलन को अंतिम रूप देना

  12. विभिन्न प्रणाली ऑडिटों का समन्वय और उनका प्रभावी अनुपालन सुनिश्चित करना,

  13. नए साइबर सुरक्षा उपायों को प्रस्तावित करना और उन्हें लागू करना और डेटा केंद्रों के साथ समन्वय करके साइबर सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन करना

  14. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य कार्य या प्रशासनिक ड्यूटी

16.

अंतरराष्ट्रीय करार / कराधान मामले

विधि विशेषज्ञ

  1. बैंक की आंतरिक नीतियों / प्रक्रियाओं और अंतर्राष्ट्रीय विनियमों और कानूनों, जिसमें मेजबान देश के कानून शामिल है, के अनुसार मौजूदा अनुबंधों को बनाए रखने, अद्यतन करने और नवीनीकृत करने के साथ-साथ आरक्षित प्रबंधन परिचालन, कार्यों और परिचालन से जुड़े नए अनुबंधों / समझौतों / वैधानिक दस्तावेजों का प्रारूपण, तैयार करना और स्थापित करना। इन अनुबंधों में प्रत्येक पक्ष के अधिकार और दायित्वों, फीस, निवेश दिशानिर्देश, वारंटी, लागू विधान और क्षेत्राधिकार आदि निर्दिष्ट होने चाहिए और विदेशी केंद्रीय बैंकों / विदेशी वाणिज्यिक बैंकों / अंतर्राष्ट्रीय केंद्रीय प्रतिभूति निक्षेपागार / वित्तीय संस्थानों आदि जैसी संस्थाओं के साथ किया जाए

  2. विभाग के विधि जोखिमों का समाधान करना और इस प्रक्रिया में, यदि आवश्यक हो तो, बैंक के विभिन्न कार्यालयों / विभागों के साथ समन्वय करना

  3. आरक्षित प्रबंधन से संबंधित कार्यों,संचालन,गतिविधियों पर लागू अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय बाजार कानूनों उदा. यूरोपीय बाजार इंफ्रास्ट्रक्चर विनियमन,फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट्स डायरेक्टिव में बाजार आदि के प्रभाव और अनुपालन पर सूचित करना

  4. अंतरराष्ट्रीय बाजारों में व्यापार से उत्पन्न होने वाले कराधान मुद्दों पर विभाग को सूचित करना, जो विदेशी खाता कर अनुपालन अधिनियम, क्राउन निर्भरता और ओवरसीज़ क्षेत्रों के अंतर्राष्ट्रीय कर अनुपालन विनियम आदि तक सीमित नहीं है

  5. संयुक्त राष्ट्र के प्रावधानों के साथ-साथ विदेशी संपत्ति नियंत्रण कार्यालय (ओएफएसी) के अंतर्गत एकतरफा / वैश्विक प्रतिबंधों पर विभाग को सूचित करना । विशेष रूप से नामित नागरिकों और ब्लॉक किये हुए व्यक्तियों की सूची (एसडीएन) और रिजर्व पोर्टफोलियो पर उनके संभावित प्रभाव का आकलन करना

  6. विधिक मामलों में विभाग की तरफ से विदेशी प्रतिपक्षियों के साथ बैंक के अधिकारियों के समन्वय में सहायता करना, भारतीय और अंतरराष्ट्रीय कराधान अधिकारियों या प्रासंगिक कर मामलों में समन्वय करना और कराधान अधिकारियों को विभिन्न कराधान फॉर्मों का समय पर और सही जमा करना सुनिश्चित करना

  7. विधि प्रलेखन का उचित प्रबंधन सुनिश्चित करना

  8. विभाग द्वारा संदर्भित विभिन्न मुद्दों पर बैंक के विधि विभाग के साथ परामर्श और समन्वय करना

  9. केवाईसी संबंधित पहलुओं पर अनुपालन प्रलेखन के लिए सहायता प्रदान करना

  10. सामान्य रूप से विधिक अनुसंधान,विधिक राय प्रदान करने वाले,कारण बताओ नोटिस के ड्राफ्ट और इसे जारी करने वाले सक्षम प्राधिकारी के विचारार्थ सकारण आदेश तैयार करने वाले के साथ मुकदमेबाजी, यदि कोई हो, को संभालने और विभागाध्यक्ष या विधिक परामर्शदाता द्वारा सौंपे इस तरह के आधिकारिक कार्यों को करने वाले बैंक के अधिकारियों की सहायता करना

  11. बैंक द्वारा संदर्भित मामलों पर विधिक राय प्रदान करना, नीतिगत मुद्दों पर विधिक परामर्श और कोर्ट के मामलों से निपटने के लिए कार्यनीतियों को अंतिम रूप देने पर सहायता करना

  12. विधान और उप-विधान के ड्राफ्ट की वेटिंग

  13. जब भी बाहर की राय की आवश्यकता हो तो वरिष्ठ सलाहकारों के साथ सम्मेलनों में भाग लेना और वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के साथ बैठकों में भाग लेना

  14. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य कार्य

5. चयन योजना: उपर्युक्त पदों के लिए चयन प्रारंभिक स्क्रीनिंग / शॉर्टलिस्टिंग के बाद साक्षात्कार के माध्यम से होगा। भारिबैं सर्विसेज़ बोर्ड को अधिकार है कि उपर्युक्त न्यूनतम शैक्षणिक अर्हता अपेक्षाओं को बढ़ाकर अथवा अन्य किसी उचित तरीके से साक्षात्कार के लिए बुलाए जाने वाले उम्मीदवारों की संख्या सीमित कर सके। साक्षात्कार के लिए चुने गए उम्मीदवारों को ई-मेल के माध्यम से साक्षात्कार बुलावा पत्र जारी किया जाएगा और उनकी उम्मीदवारी आयु, श्रेणी, अर्हता, अनुभव इत्यादि की योग्यता के संबंध में उनके दावे के समर्थन में जमा दस्तावेजों को प्रस्तुत करने और सत्यापन के अधीन होगी।

6. आवेदन शुल्क तथा सूचना प्रभार:

क्रम सं. वर्ग प्रभार राशि *
1. अजा/अजजा/बैंचमार्क दिव्यांग केवल सूचना प्रभार 100/-रुपये
2. सामान्य/अपिव सूचना प्रभार सहित आवेदन शुल्क 600/-रुपये
3. स्टाफ@ शून्य शून्य
*बैंक/लेनदेन प्रभार का वहन उम्मीदवार द्वारा किया जाएगा
@ शुल्क/सूचना प्रभार में छूट भारतीय रिज़र्व बैंक के केवल उन्हीं कर्मचारियों (स्टाफ उम्मीदवारों) को दी जाएगी जो दिनांक 20 दिसंबर 2013 के परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-14 के अनुसार बैंक द्वारा निर्धारित पात्रता मानदंडों को अलग से पूरा करते हैं। स्टाफ उम्मीदवार के रूप में उनकी स्थिति की जांच साक्षात्कार के समय की जाएगी। यदि वे स्टाफ उम्मीदवार (उक्त संदर्भित मासंप्रवि परिपत्र के अनुसार) मानेजाने के पात्र नहीं हैं तो उन्हें सूचित किया जाता है कि वे स्वयं को गैर-स्टाफ उम्मीदवार दर्शाएं तथा गैर-स्टाफ उम्मीदवारों के लिए लागू शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान करें।

टिप्पणी I: निधारित शुल्क/सूचना प्रभार के बिना प्राप्त आवदेनों को तुरंत रद्द कर दिया जाएगा।

टिप्पणी II: एक बार शुल्‍क का भुगतान किए जाने पर उसे किसी भी कारण से लौटाया नहीं जाएगा और न ही शुल्क को किसी अन्य परीक्षा अथवा चयन के लिए आरक्षित रखा जा सकेगा।

टिप्पणी III: शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान केवल इस विज्ञापन में निर्धारित तरीके से ही किया जाना अपेक्षित है।

7. आवेदन कैसे करें

(a) उम्मीदवारों के लिए अपेक्षित है कि वे वेबसाइट www.rbi.org.in. का प्रयोग करके ऑनलाइन आवेदन करें। आवेदन का कोई अन्य माध्यम/तरीका स्वीकार नहीं किया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के लिए विस्तृत अनुदेश परिशिष्ट-I में दिए गए हैं जो उपर्युक्त वेबसाइट पर उपलब्ध है। आवेदकों को केवल एक आवेदन पत्र प्रस्तुत करने का परामर्श दिया जाता है। तथापि किसी अपरिहार्य परिस्थितिवश यदि वह एक से अधिक आवेदन पत्र प्रस्तुत करता है तो वह यह सुनिश्चित कर लें कि उच्च आरआईडी (रजिस्ट्रेशन आईडी) वाला आवेदन पत्र हर तरह अर्थात आवेदक का विवरण, फोटो, हस्ताक्षर, शुल्क आदि से पूर्ण है। एक से अधिक आवेदन पत्र भेजने वाले उम्मीदवार यह नोट कर लें कि केवल सभी रूप से पूर्ण अंतिम उच्च आरआईडी (रजिस्ट्रेशन आईडी) वाले आवेदन पत्र ही बोर्ड द्वारा स्वीकार किए जाएंगे और एक आरआईडी के लिए अदा किए गए शुल्क का समायोजन किसी अन्य आरआईडी के लिए नहीं किया जाएगा।

(b) सभी उम्मीदवार चाहे वे पहले से सरकारी नौकरी में हों या सरकारी स्वामित्व वाले औद्योगिक उपक्रमों में हों या इसी तरह के अन्य संगठनों में चाहे स्थायी या अस्थायी हैसियत से काम कर रहे हों या वर्क चार्ज कर्मचारी हों, इसमें कैजुअल या दैनिक दर पर कार्य करने वाले कर्मचारी शामिल नहीं है, या सार्वजनिक उद्यमों के अधीन कार्यरत हैं उनको ऑनलाइन आवेदन में यह परिवचन (अंडरटेकिंग) प्रस्तुत करना होगा कि उन्होंने लिखित रूप में अपने कार्यालय/विभाग के अध्यक्ष को सूचित कर दिया है कि उन्होंने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है। उम्मीदवारों को यह ध्यान रखना चाहिए कि यदि बोर्ड को उनके उक्त परीक्षा के लिए आवेदन करने/परीक्षा में बैठने से संबद्ध अनुमति रोकते हुए कोई पत्र मिलता है तो उनका आवेदन पत्र अस्वीकृत किया जा सकता है/ उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है। संस्तुत उम्मीदवारों को ज्वाइनिंग के समय उनके सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम/सरकारी/अर्ध सरकारी नियोक्ता से उचित सेवा मुक्ति प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा।

टिप्प्णी 1: उम्मीदवारों को अपने आवेदन पत्र के साथ आयु, शैक्षिक योग्यता, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग तथा दिव्यांगता आदि का कोई प्रमाणपत्र प्रस्तुत नहीं करना होगा। इनकी जांच केवल साक्षात्कार के समय की जाएगी। अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित उम्मीदवारों के पास 01 दिसंबर 2017 को अथवा इसके बाद जारी किया गया अपिव प्रमाणपत्र होना चाहिए। पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार यह सुनिश्चित कर लें कि परीक्षा में प्रवेश दिए जाने के लिए पात्रता शर्तें पूरी करते हैं। साक्षात्कार में उनका प्रवेश पूर्णत: अनंतिम होगा तथा उनके लिए निर्धारित पात्रता की शर्तों को पूरा करने पर आधारित होगा। यदि साक्षात्कार के पहले या बाद में सत्यापन करने पर यह पता चलता है कि वे पात्रता की किन्हीं शर्तों को पूरा नहीं करते हैं तो बोर्ड द्वारा परीक्षा के लिए उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी। यदि उनके द्वारा किए गए दावे सही नहीं पाए जाते हैं तो बोर्ड द्वारा उन पर अनुशासनिक कार्रवाई की जा सकती है। जो उम्मीदवार बोर्ड द्वारा निम्न के लिए दोषी घोषित किया जाए:

(i) निम्नलिखित तरीकों से अपनी उम्मीदवारी के लिए समर्थन प्राप्त किया है अर्थात:

  1. गैर कानूनी रूप से परितोषण की पेशकश करना, या

  2. दबाव डालना, या

  3. परीक्षा आयोजित करने से संबंधित किसी भी व्यक्ति को ब्लैकमेल करना, अथवा उसे ब्लैकमेल करने की धमकी देना, अथवा

(ii) नाम बदल कर परीक्षा दी है, अथवा

(iii) किसी अन्य व्यक्ति से छद्म रूप से कार्य साधन कराया है, अथवा

(iv) जाली प्रमाणपत्र या ऐसे प्रमाणपत्र प्रस्तुत किए हैं जिनमें तथ्यों को बिगाड़ा गया हो अथवा

(v) गलत या झूठे वक्तव्य दिए हैं या किसी महत्वपूर्ण तथ्य को छिपाया है, अथवा

(vi) परीक्षा संचालित करने के लिए बोर्ड द्वारा नियुक्त कर्मचारियों को परेशान किया हो या अन्य प्रकार की शारीरिक क्षति पहुंचाई हो, या

(vii) उम्मीदवारों को जारी किसी भी अनुदेशों का उल्लंघन किया है, अथवा

(viii) उपर्युक्त खंडों में उल्लिखित सभी/किसी भी कार्य के द्वारा बोर्ड को अवप्रेरित करने का प्रयत्न किया हो, तो उन पर आपराधिक अभियोग (क्रिमिनल प्रॉसीक्यूशन) चलाया जा सकता है और उसके साथ ही उसे आयोग द्वारा उस परीक्षा के लिए अयोग्य ठहराया जा सकता है जिसमें वह बैठ रहा है, और/अथवा उसे स्थायी रूप से या एक विशेष अवधि के लिए (i) बोर्ड द्वारा ली जाने वाली किसी भी परीक्षा अथवा चयन के लिए (ii) बैंक द्वारा उनके अधीन किसी भी नौकरी से वंचित किया जा सकता है। (iii) यदि वह पहले से ही बैंक में नियोजित है तो बर्खास्तगी; तथा (iv) यदि पहले से ही किसी अन्य सेवा में है तो बोर्ड द्वारा उनके नियोक्ता को अनुशासनिक कार्रवाई के लिए लिखना।

बशर्ते इस नियम के अधीन कोई शास्ति तब तक नहीं दी जाएगी जब तक: (i) उम्मीदवार को इस संबंध में लिखित अभ्यावेदन, जो वह देना चाहे, प्रस्तुत करने का अवसर न दिया गया हो और (ii) उम्मीदवार द्वारा अनुमत समय में प्रस्तुत अभ्यावेदन पर, यदि कोई हो, विचार न कर लिया गया हो।

8. आवेदनों की प्राप्ति की अंतिम तारीख: ऑनलाइन आवेदन 8 जनवरी 2019, अपराहन 06.00 बजे तक भरे जा सकते हैं।

9. सामान्य अनुदेश:

(a) बोर्ड के साथ पत्र व्यवहार: निम्नलिखित को छोड़कर अन्य किसी भी मामले में बोर्ड उम्मीदवार के साथ पत्र-व्यवहार नहीं करेगा:

चुने हुए उम्मीदवारों को साक्षात्कार प्रारंभ होने के दो सप्ताह पूर्व ई-मेल द्वारा साक्षात्कार बुलावा पत्र जारी किया जाएगा।

(b) अंतिम दिन बोर्ड के नियंत्रण से परे किसी अन्य कारण से उम्मीदवार के आवेदन जमा करने में असमर्थ होने के लिए बोर्ड कोई दायित्व नहीं लेता।

(c) उम्मीदवारों को सूचित किया जाता है कि वे साक्षात्कार पत्र आदि प्राप्त करने के लिए अपने ई-मेल आईडी/मोबाइल नंबर सक्रिय रखें। उम्मीदवार नियमित रूप से ईमेल/ एसएमएस देखते रहें। बोर्ड किसी अन्य तरीके से कोई सूचना नहीं भेजता है।

(d) भारतीय रिज़र्व बैंक के कर्मचारी (स्टाफ उम्मीदवार), जो बैंक द्वारा दिनांक 20 दिसंबर 2013 के परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-2014 के अनुसार अलग से निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं तथा जो अंतिम तारीख से पहले ऑनलाइन आवेदन करते हैं, भी इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं। स्टाफ उम्मीदवार के रूप में उनकी स्थिति की जांच साक्षात्कार के समय की जाएगी।

(e) बोर्ड द्वारा उम्‍मीदवारों को अंक-सूची नहीं दी जाती है।

(f) चयन/भर्ती के लिए उम्मीदवार द्वारा अथवा उनकी और से किसी भी प्रकार की अनुयाचना तथा राजनैतिक अथवा बाहरी दबाव का प्रयोग उम्‍मीदवार की अयोग्‍यता मानी जाएगी।

(g) पात्रता, साक्षात्कार, मूल्यांकन, रिक्तियों की संख्या को ध्यान में रखते हुए आवेदनों की शॉर्टलिस्टिंग तथा साक्षात्कार दोनों में न्यूनतम अर्हता मानक निर्धारित करने और परिणामों की सूचना देने से संबंधित सभी मामलों में बोर्ड का निर्णय अंतिम तथा उम्मीदवारों के लिए बाध्यकारी होगा तथा इस संबंध में कोई पत्राचार नहीं किया जाएगा।

(h) दिव्यांग व्यक्तियों के लिए आरक्षित रिक्तियों के लिए आरक्षण का लाभ लेने के लिए पात्रता वही होगी जो “दिव्यांग अधिकार (आरपीडब्ल्यूडी) अधिनियम 2016” में है बशर्ते कि दिव्यांग उम्मीदवारों को शारीरिक अपेक्षाओं/कार्यात्मक वर्गीकरण (सक्षमताओं/अक्षमताओं) के संबंध में उन विशेष पात्रता मानदंडों को पूरा करना भी अपेक्षित होगा जो निर्धारित अपेक्षाओं के संगत हो।

(i) किसी भी उम्मीदवार को समुदाय संबंधी आरक्षण का लाभ, उसकी जाति को केंद्र सरकार द्वारा जारी आरक्षित समुदाय संबंधी सूची में शामिल किए जाने पर ही मिलेगा। यदि कोई उम्मीदवार आवेदन पत्र में यह उल्लेख करता है कि वह सामान्य वर्ग से संबंधित है लेकिन कालांतर में अपने वर्ग को आरक्षित सूची के वर्ग में तब्दील करने के लिए बोर्ड को लिखता है तो बोर्ड द्वारा ऐसे अनुरोध को किसी भी हालत में स्वीकार नहीं किया जाएगा। इसी सिद्धांत का अनुसरण बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के लिए भी किया जाएगा। परीक्षा की प्रक्रिया के दौरान किसी उम्मीदवार के दिव्यांग होने के खेदपूर्ण मामले में उम्मीदवार को ऐसा मान्य दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा जिसमें इस तथ्य का उल्लेख हो कि वह दिव्यांग अधिकार अधिनियम(आरपीडब्ल्यूडी), 2016 के अंतर्गत यथापारिभाषित 40% अथवा इससे अधिक दिव्यांगता से ग्रस्त है ताकि उसे बैंचमार्क दिव्यांगता के अंतर्गत आरक्षण का लाभ प्राप्त हो सके।

(j) अजा/अजजा/अपिव/बैंचमार्क दिव्यांगजनों/पूर्व सैनिकों के लिए उपलब्ध आरक्षण/रियायत के लाभ के इच्छुक उम्मीदवार यह सुनिश्चित करें कि वे निर्धारित पात्रता के अनुसार आरक्षण/रियायत के हकदार हैं। उम्मीदवारों के पास उनके दावे के समर्थन में निर्धारित प्रारूप में सभी आवश्यक प्रमाणपत्र होने चाहिए तथा इन प्रमाणपत्रों पर आवेदन जमा करने की निर्धारित तिथि (अंतिम तिथि) से पहले की तिथि अंकित होनी चाहिए।

(k) कृपया नोट करें कि यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा।

(l) इस विज्ञापन से उत्पन्न कोई भी विवाद केवल मुंबई स्थित न्यायालयों के एकमात्र अधिकार क्षेत्र के अधीन होगा।

टिप्प्णी: कृपया नोट करें कि यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा। इस विज्ञापन से उत्पन्न किसी भी विवाद की स्थिति में विज्ञापन का अंग्रेजी संस्करण ही मान्य होगा।

Server 214
शीर्ष