दिनांक : 08/17/2018संयुक्त वरिष्ठता समूह (सीएसजी) शाखाओं में ग्रेड ‘बी’ पदों पर विशेषज्ञों की सीधी भर्ती-2018

महत्वपूर्ण अनुदेश

1. उम्मीदवार पदों के लिए अपनी पात्रता सुनिश्चित कर लें:

(i) आवेदन करने से पहले उम्मीदवारों को सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वे भारतीय रिज़र्व बैंक (भारिबैं/बैंक) के लिए विज्ञापित पदों के लिए पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं। भारतीय रिज़र्व बैंक सर्विसेज़ बोर्ड (इसके बाद इसे ‘बोर्ड’ कहा जाएगा) पद के लिए अपेक्षित शुल्क/सूचना प्रभारों (जहां कहीं भी लागू हो) के साथ आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवारों को ऑनलाइन आवेदन में दी गई जानकारी के आधार पर परीक्षाओं में प्रवेश देगा तथा उनकी पात्रता का निर्धारण केवल अंतिम स्तर अर्थात साक्षात्कार के लिए बुलाए जाने के समय ही करेगा । उस स्तर पर यदि यह पाया गया कि ऑनलाइन आवेदन में दी गई कोई भी जानकारी झूठी/गलत है या बोर्ड के अनुसार उम्मीदवार पद के लिए पात्रता मानदंडों को पूरा नहीं करता/करती है तो उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी तथा उन्हें साक्षात्कार के लिए उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जाएगी तथा यदि वे पहले से बैंक में सेवारत है तो उन्हें बिना नोटिस दिए सेवा से हटाया जा सकता है।

2. आवेदन का तरीका:

उम्मीदवारों के लिए अपेक्षित है कि वे बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in के माध्यम से केवल ऑनलाइन आवेदन करें । आवेदन प्रस्तुत करने का कोई और तरीका उपलब्ध नहीं है। “ऑनलाइन आवेदन फार्म” भरने के लिए संक्षिप्त अनुदेश परिशिष्ट –I में दिए गए हैं:

3. महत्‍वपूर्ण तिथियां:

गतिविधियां महत्‍वपूर्ण तिथियां**
वेबसाइट लिंक खुला रहेगा- आवेदनों के ऑनलाइन पंजीकरण के लिए तथा शुल्क/सूचना प्रभारों के भुगतान के लिए 17 अगस्त 2018 से 07 सितंबर 2018
प्रश्नपत्र I: ऑनलाइन – वस्तुनिष्ठ 29 सितंबर 2018
प्रश्नपत्र II: ऑनलाइन – वर्णनात्मक
प्रश्नपत्र III: ऑफलाइन – वर्णानात्मक
** बोर्ड को इन तिथियों में परिवर्तन करने का अधिकार है।

4. सहायता केंद्र: फार्म भरने, शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान करने अथवा प्रवेश पत्र डाउनलोड करने में कोई समस्या आने के मामले में अपनी शंका का समाधान http://crgs.ibps.in लिंक के माध्यम से किया जा सकता है ।

ईमेल के विषय में ‘भारिबैं - ग्रेड ‘बी’ में विशेषज्ञ – डीआर’ आवेदित पद’ का उल्लेख करना न भूलें ।

5. मोबाइल फोन तथा अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्रयोग पर प्रतिबंध:

(a) परीक्षा के दौरान मोबाइल फोन (स्विच ऑफ मोड में भी) पेज़र या अन्‍य कोई इलेकट्रॉनिक उपकरण अथवा प्रोग्रैमबल उपकरण अथवा स्टोरेज के साधन जैसे पेन ड्राइव, स्मार्ट वॉच आदि, अथवा कैमरा अथवा ब्लू टूथ उपकरण अथवा कोई अन्य उपकरण अथवा सबंधित उपकरण जिसका प्रयोग संचार उपकरण के रूप में हो सकता है, चालू अथवा स्विच ऑफ मोड में, प्रयोग करने की अनुमति नहीं होगी। इन अनुदेशों का उल्लंघन किया जाता है तो अनुशासनिक कार्रवाई किए जाने के साथ-साथ भविष्य में आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं के लिए भी प्रतिबंधित किया जाएगा ।

(b) उम्मीदवारों को सूचित किया जाता है कि यह उनके हित में है कि वे मोबाइल फोन, पेजर सहित प्रतिबंधित वस्तु परीक्षा स्थल पर न लाएं क्योंकि उनके सुरक्षा इंतजाम का आश्वासन नहीं दिया जा सकता है।

(c) उम्मीदवारों को सूचित किया जाता है कि वे कोई मूल्यवान/महंगी वस्तुएं परीक्षा हॉल में न लाएं क्योंकि उनके सुरक्षा इंतजाम का आश्वासन नहीं दिया जा सकता है। इस संबंध में हुए किसी भी नुकसान के लिए बोर्ड उत्तरदायी नहीं होगा।

6. शुद्धिपत्र: कृपया नोट करें कि यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा ।


विस्तृत नोटिस

1. भारतीय रिज़र्व बैंक सर्विसेज़ बोर्ड (बोर्ड) भारतीय रिज़र्व बैंक (भारिबैं/बैंक) में निम्नलिखित पदों के लिए पात्र उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित करता है:

क्रम सं. पद – ग्रेड बी में विशेषज्ञ रिक्तियों की संख्या
अनारक्षित अर्थात सामान्य
(सामा/अना)
अनुसूचित जाति
(अजा)
अनुसूचित जनजाति (अजजा) अन्य पिछड़ा वर्ग (अपिव) $ कुल
1. फाइनेंस 8 2 1 3 14^
2. डेटा एनालिटिक्स 8 2 1 3 14
3. रिस्क मॉडलिंग 8 1 0 3 12#
4. फोरेंसिक ऑडिट 8 1 0 3 12
5. प्रोफेशनल कॉपी एडिटिंग 3 0 0 1 4
6. ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट 3 0 0 1 4*
$ अपिव वर्ग से संबंधित जो उम्मीदवार ‘क्रीमी लेयर’ में आते हैं वे अपिव आरक्षण के लिए हकदार नहीं हैं । उन्हें अपने वर्ग का उल्लेख ‘सामान्य (सामा)’ के रूप में करना चाहिए ।
^ बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के अंतर्गत 1 रिक्ति दृष्टिबाधित तथा निम्न दृष्टि उम्मीदवार के लिए आरक्षित है।
# बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के अंतर्गत 1 रिक्ति बधिर तथा ऊंचा सुनने वाले उम्मीदवार के लिए आरक्षित।
* बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के अंतर्गत 1 रिक्ति लोकोमोटर नि:शक्तता जिसमें प्रमस्तिष्क पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी), ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक के पीड़ित तथा मांसपेशीय दुर्विकास (मस्कुलर डिस्ट्रॉफी) शामिल हैं के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित है।

बैंचमार्क दिव्यांगता वाले उम्मीदवारों के लिए टिप्पणी:

(1) शारीरिक अपेक्षाओं तथा कार्यात्मक वर्गीकरण के साथ बैंचमार्ग दिव्यांगता वाले व्यक्तियों के लिए उपयुक्त चिन्हित पदों की सूची निम्नानुसार है। केवल निम्नलिखित वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवार ही इन पदों के लिए आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

क्रम सं. पद जिन वर्गों के लिए उपयुक्त है कार्यात्मक वर्गीकरण* शारीरिक अपेक्षाएं**
1. ग्रेड ‘बी’ में विशेषज्ञ दृष्टिबाधित तथा निम्न दृष्टि बी बीएन, सी, एच, केसी, एल, एमएफ, पीपी, आरडब्ल्यू (ब्रेल/सॉफ्टवेयर में), एस, एसटी, डब्ल्यू
एलवी बीएन, सी, एच, केसी, एल, एमएफ, पीपी, आरडब्ल्यू, एस, एसटी, डब्ल्यू
बधिर तथा ऊंचा सुनना डी, एचएच बीएन, सी, केसी, एल, एमएफ, पीपी, आरडब्ल्यू, एस, एसई, एसटी, डब्ल्यू
लोकोमोटर नि:शक्तता जिसमें प्रमस्तिष्क पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी), ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक के पीड़ित तथा मांसपेशीय दुर्विकास (मस्कुलर डिस्ट्रॉफी) शामिल हैं ओए, ओएल, प्रमस्तिष्क पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी), ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक पीड़ित बीएन, सी, केसी, एल, एच, एमएफ, पीपी, आरडब्ल्यू, एस, एसई, एसटी, डब्ल्यू
बीएल सी, एच, एल, एमएफ, पीपी, आरडब्ल्यू, एस, एसई
मांसपेशीय दुर्विकास (मस्कुलर डिस्ट्रॉफी) सी, एच, एमएफ, आरडब्ल्यू, एसई, एस
विभिन्न दिव्यांगताएं ओए, ओएल, प्रमस्तिष्क पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी), ठीक हुआ कुष्ठ रोग, बौनापन, एसिड अटैक पीड़ित तथा
(i) दृष्टिबाधित/निम्न दृष्टि
अथवा
(ii) बधिर/ ऊंचा सुनना
बीएन, सी, केसी, एल, एमएफ, पीपी, एस, एसटी, डब्ल्यू

आरडब्ल्यू (ब्रेल/सॉफ्टवेयर में) तथा एच अथवा आरडब्ल्यू तथा एसई (जैसा लागू हो)
* कार्यात्मक वर्गीकरण: ओए- एक बांह, ओएल- एक पैर, बीएल- दोनों पैर परंतु हाथ नहीं, बी- दृष्टिबाधित, एलवी-निम्न दृष्टि, डी-बधिर तथा एचएच- ऊंचा सुनना
** शारीरिक अपेक्षाएं: बीएन-झुकना, सी- वार्तालाप, एच-सुनना/बोलना, केसी-घुटने के बल बैठना तथा झुकना (क्राउचिंग), एल-उठाना, एमएफ- अंगुलियों द्वारा निष्पादन, पीपी- खींचना/धक्का देना, आरडब्ल्यू-पढ़ना तथा लिखना, एस-बैठना, एसई-देखना, एसटी-खड़े होना तथा डब्ल्यू-चलना

(2) बैंचमार्क दिव्यांगता वाले उम्मीदवार किसी भी वर्ग (अर्थात सामान्य/अजा/अजजा/अपिव) के हो सकते हैं। बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए आरक्षण क्षैतिज है तथा पदों के लिए समस्त रिक्तियों के अंतर्गत व पदों की पहचान ऐसी दिव्यांगताओं के लिए उपयुक्त पद के रूप में किए जाने के अधीन है।

(3) बैंचमार्क दिव्यांगता वाले उम्मीदवारों के पास, जैसा कि दिव्यांग अधिकार अधिनियम, 2016 (आरपीडब्ल्यूडी अधिनियम 2016) में निर्धारित किया गया है, सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी नवीनतम दिव्यांगता प्रमाणपत्र होना चाहिए। बोर्ड/सक्षम प्राधिकारी के निर्णयानुसार ऐसे प्रमाणपत्र का सत्यापन/पुन: सत्यापन किया जाएगा।

(4) अधिसूचित की गई कुल रिक्तियों के अंतर्गत दिव्यांगता के किसी भी वर्ग से संबंधित बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवारों पर उनकी उपयुक्तता के अधीन, बैंचमार्क दिव्यांग रिक्तियों का बैकलॉग खत्म करने के लिए इस विज्ञापन में बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अधिसूचित रिक्तियों के अतिरिक्त उनके चयन पर विचार किया जाएगा ।

(5) बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए आरक्षित रिक्तियां संबंधित वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्ति द्वारा ही भरी जाएगी। यदि उसे वर्ग में कोई उपयुक्त व्यक्ति उपलब्ध नहीं है तो ऐसी बैकलॉग रिक्तियां अन्य पात्र बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवारों के बीच अदला-बदली (इंटरचेंज) करके भरी जाएंगी परंतु ऐसा किया जाना पदों का ऐसी दिव्यांगताओं के लिए उपयुक्त पद के रूप में चिन्हित किए जाने के अधीन होगा।

(6) स्क्राइब (लेखन सहायक) तथा क्षतिपूर्ति समय का प्रयोग: ऑनलाइन/लिखित परीक्षा के समय केवल उन्हीं बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवारों (जिन्हें 40% अथवा अधिक दिव्यांगता है) जिन्हें टाइपिंग/लिखने, जिसमें तेजी से टाइपिंग/लिखना शामिल है, में शारीरिक रूप से कठिनाई हो, को स्क्राइब (लेखन सहायक) की सेवाओं का प्रयोग करने की अनुमति दी जाएगी । ऐसे सभी मामलों जिनमें स्क्राइब (लेखन सहायक) की सेवाओं का प्रयोग किया जाए पर निम्नलिखित नियम लागू होंगे:

  1. उम्मीदवार को उनके स्क्राइब (लेखन सहायक) की व्यवस्था स्वयं अपने खर्चे पर करनी होगी ।

  2. परीक्षा के समय उम्मीदवार तथा स्क्राइब (लेखन सहायक) दोनों को निर्धारित फार्मेट में उपयुक्त परिवचन तथा स्क्राइब (लेखन सहायक) का पासपोर्ट आकार का फोटो देना होगा ।

  3. बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के सभी उम्मीदवारों जिन्हें टाइपिंग/लिखने, जिसमें तेजी से टाइपिंग/लिखना शामिल है, में शारीरिक रूप से कठिनाई हो, को परीक्षा के प्रत्येक घंटे के लिए 20 मिनट के क्षतिपूरक समय की अनुमति होगी चाहे वे स्क्राइब (लेखन सहायक) की सुविधा का उपयोग करें अथवा नहीं।

  4. स्क्राइब (लेखन सहायक) का उपयोग करने वाले उम्मीदवार यह सुनिश्चित कर लें कि वे स्क्राइब (लेखन सहायक)का उपयोग करने के लिए पात्र हैं। यदि कोई उम्मीदवार उपर्युक्त दिशानिर्देशों का उल्लंघन करके स्क्राइब (लेखन सहायक) का उपयोग करता है तो उन्हें अयोग्य करार दे दिया जाएगा और यदि वे बैंक में कार्यरत हों तो उन्हें बिना नोटिस दिए सेवा से हटा दिया जाएगा।

(7) बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले उम्मीदवारों के लिए स्क्राइब (लेखन सहायक) की सेवाएं प्राप्त करने तथा अतिरिक्त/ क्षतिपूरक समय के आबंटन के संबंध में विस्तृत अनुदेश परीक्षाओं के प्रवेशपत्र अपलोड किए जाने के समय बैंक की वेबसाइट (www.rbi.org.in) पर उपलब्ध होंगे।

2. सेवा शर्तें/ कैरियर-संभावनाएं:

(i) वेतनमान: ग्रेड 'बी' अधिकारियों के लिए लागू 35150-1750(9)-50900-द.रो.-1750(2)-54400-2000(4)-62400 रुपये के वेतनमान पर चयनित उम्मीदवारों का प्रारंभिक मूल वेतन 35,150/-रुपये प्रतिमाह होगा तथा वे समय-समय पर लागू नियमों के अनुसार मंहगाई भत्ते, स्थानीय भत्ते, मकान किराया भत्ते, परिवार भत्ते तथा ग्रेड भत्ते के लिए भी पात्र होंगे । वर्तमान में कुल प्रारंभिक मासिक परिलब्धियां लगभग 75,831/- रुपये (लगभग) हैं ।

(ii) वरिष्ठता: विशेषज्ञ ग्रेड बी के पद के लिए चयनित उम्मीदवार संयुक्त वरिष्ठता समूह (सीएसजी) में शामिल होंगे तथा इन अधिकारियों के मध्य वरिष्ठता उम्मीदवारों के समग्र अंकों के स्टैंडर्ड पर्सेंटाइल का प्रयोग करके निकाली गई रैंकिंग के अनुसार निर्धारित की जाएगी।

(iii) अनुलाभ: पात्रता के अनुसार बैंक आवास यदि उपलब्ध हो तो, कार्यालयीन उद्देश्य से वाहन के अनुरक्षण के लिए व्यय की प्रतिपूर्ति, समाचार पत्र, टेलीफोन प्रभार, पुस्तक अनुदान, आवास की फर्निशिंग के लिए भत्ते आदि । पात्रता के अनुसार ओपीडी उपचार/ हस्पताल में भर्ती होने के लिए चिकित्सा व्यय की प्रतिपूर्ति सहित नि:शुल्क औषधालय की सुविधा । ब्याज मुक्त त्यौहार अग्रिम, छुट्टी किराया रियायत (दो वर्ष में एक बार स्वयं पति/पत्नी तथा पात्र आश्रितों के लिए) । आवास, वाहन, शिक्षा, उपभोक्ता वस्तुएं, पर्सनल कंप्यूटर आदि के लिए रियायती ब्याज दरों पर ऋण तथा अग्रिम । उपदान के लाभों के अतिरिक्त चयनित उम्मीदवारों पर ‘डिफाइन्ड कान्ट्रिब्यूशन न्यू पेंशन स्कीम (एनपीएस)’ लागू होगी ।

(iv) कुछ केंद्रों में सीमित संख्‍या में आवासीय क्वार्टर की सुविधा उपलब्‍ध है । किंतु पट्टे पर आवासीय सुविधा सभी केंद्रों में उपलब्‍ध है ।

(v) प्रारंभिक नियुक्ति दो वर्ष की अवधि के लिए परिवीक्षा पर होगी । बैंक के विवेकानुसार परिवीक्षा की अवधि अधिकतम चार वर्षों तक बढ़ाई जा सकती है ।

(vi) उच्‍चतर ग्रेडों में पदोन्‍नति की यथोचित संभावनाएं हैं ।

(vii) तैनाती का संभावित स्थान मुंबई होगा। तथापि चुने गए उम्‍मीदवारों को भारत में कही भी तैनात और स्‍थानांतरित किया जा सकता है।

3. पात्रता की शर्तें:

I. राष्ट्रीयता: उम्मीदवार को या तो

  1. भारत का नागरिक होना चाहिए, अथवा

  2. नेपाल की प्रजा, अथवा

  3. भूटान की प्रजा, अथवा

  4. ऐसा तिब्बती शरणार्थी जो भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से 1 जनवरी 1962 से पहले भारत आ गया हो, अथवा

  5. कोई भारतीय मूल का व्यक्ति जो भारत में स्थायी रूप से बसने के इरादे से पाकिस्तान, बर्मा, श्रीलंका, पूर्वी अफ्रीकी देशों कीनिया, युगांडा, संयुक्त गणराज्य तंजानिया, जाम्बिया, मालावी, जायरे, इथियोपिया तथा विएतनाम से प्रव्रजन करके आया हो।

परंतु यदि उम्मीदवार उक्त (ख) (ग) (घ) तथा (ड.) में से किसी वर्ग से हो तो उनके पक्ष में भारत सरकार द्वारा जारी किया गया पात्रता प्रमाणपत्र होना चाहिए।

ऐसे उम्मीदवार को भी परीक्षा में प्रवेश दिया जा सकता है जिनके मामले में पात्रता प्रमाणपत्र आवश्यक हो किंतु भारत सरकार द्वारा उसके संबंध में पात्रता प्रमाणपत्र जारी किए जाने के बाद ही उसको नियुक्ति प्रस्ताव भेजा जा सकता है।

II. आयु सीमाएं (01.08.2018 को):

(a) दिनांक 01 अगस्त 2018 को उम्मीदवार की आयु पूरे 24 वर्ष की हो जानी चाहिए किंतु 34 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए अर्थात उम्मीदवार का जन्म 01 अगस्त 1984 से पहले तथा 01 अगस्त 1994 के बाद का नहीं होना चाहिए।

(b) उक्त अधिकतम आयु सीमा सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए है। निर्धारित ऊपरी आयु सीमा में छूट इस प्रकार है:

(i) अनुसूचित जाति अथवा अनुसूचित जनजाति से संबंधित उम्मीदवारों के लिए अधिकतम पांच वर्ष यदि पद उनके लिए आरक्षित हैं।

(ii) लागू आरक्षण प्राप्त करने के लिए पात्र अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित उम्मीदवारों के मामले में अधिकतम तीन वर्ष यदि पद उनके लिए आरक्षित हैं ।

(iii) वे उम्‍मीदवार जो 1 जनवरी 1980 और 31 दिसंबर 1989 के बीच की अवधि में साधारणतया जम्‍मू और कश्‍मीर राज्य के अधिवासी रहे के लिए अधिकतम पांच वर्ष।

(iv) भूतपूर्व सैनिकों के लिए अधिकतम पांच वर्ष जिसमें वे कमीशन प्राप्त अधिकारी तथा आपातकालीन कमीशन - प्राप्‍त अधिकारी/अल्‍पावधि सेवा कमीशन प्राप्‍त अधिकारी शामिल हैं जो 01 अगस्त 2018 को न्यूनतम पांच वर्ष की सेवा के बाद निम्नानुसार सेवा मुक्त किए गए हों:

  1. कार्यकाल पूरा होने पर (इनमें वे भी शामिल हैं जिनका कार्यकाल 01 अगस्त 2018 से एक वर्ष में पूरा होने वाला है) किंतु इनमें वे भूतपूर्व सैनिक शामिल नहीं है जिन्‍हें कदाचार या अकुशलता के कारण सेवामुक्‍त किया गया है; अथवा

  2. जो सैन्‍य सेवा से संबंधित अपंगता; अथवा

  3. अशक्‍तता के कारण से सेवामुक्‍त कर दिए गए हों

(v) आपातकालीन कमीशन - प्राप्‍त अधिकारियों/अल्‍पावधि सेवा कमीशन प्राप्‍त अधिकारियों के उन मामलों में अधिकतम पांच वर्ष जिन्होंने 01 अगस्त 2018 को पांच वर्ष की मिलीटरी सेवा में प्रारंभिक अवधि पूरी कर ली है लेकिन जिनका कार्यकाल पांच वर्ष से आगे की अवधि के लिए बढ़ाया गया है तथा जिनके मामले में रक्षा मंत्रालय इस आशय का प्रमाणपत्र जारी करता है कि वे सिविल रोजगार के लिए आवेदन कर सकते हैं तथा चयन होने पर नियुक्ति का प्रस्‍ताव प्राप्त होने की तारीख से तीन महीने के नोटिस पर उन्‍हें कार्यमुक्‍त कर दिया जाएगा।

(vi) बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए अधिकतम 10 वर्ष। संबंधित पद के अंतर्गत रिक्तियों के आरक्षण के अधीन अजा/अजजा वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अधिकतम 15 वर्ष तथा अन्य पिछड़े वर्ग के बैंचमार्क दिव्यांग व्यक्तियों के लिए अधिकतम 13 वर्ष। इसके अतिरिक्त बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए ऊपरी आयुसीमा में छूट इस बात के अधीन होगी कि पदों को ऐसी दिव्यांगताओं के लिए उपयुक्त चिन्हित किया गया हो।

(vii) पात्र स्टाफ उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा में छूट दिनांक 20 दिसंबर 2013 के भारिबैं परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-14 के अनुसार होगी ।

टिप्पणी I: अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित वे उम्मीदवार जो भूतपूर्व सैनिकों, जम्मू एवं कश्मीर राज्य के अधिवासी वर्ग के अंतर्गत आते हैं, वे दोनों वर्गों के अंतर्गत आयु सीमा में संचयी छूट के लिए पात्र होंगे।

टिप्पणी II: भूतपूर्व सैनिक पद उन व्यक्तियों पर लागू होगा जिन्हें समय-समय पर यथासंशोधित भूतपूर्व सैनिक (सिविल सेवा और पद में पुन: रोजगार) नियम 1979 के अंतर्गत भूतपूर्व सैनिक के रूप मे पारिभाषित किया गया है।

टिप्पणी III: आपातकालीन कमीशन - प्राप्‍त अधिकारियों/अल्‍पावधि सेवा कमीशन प्राप्‍त अधिकारियों सहित वे भूतपूर्व सैनिक तथा कमीशन अधिकारी जो स्वयं के अनुरोध पर सेवामुक्त हुए हैं उन्हें उपर्युक्त पैरा 3 II (ख) (v) के अंतर्गत आयु में छूट नहीं दी जाएगी।

टिप्पणी IV: उक्त पैरा 3 II (ख) (vi) के अंतर्गत आयु में छूट का प्रावधान होने के बावजूद बैंचमार्क दिव्यांगता वाले उम्मीदवार की नियुक्ति हेतु पात्रता पर तभी विचार किया जा सकता है जब वह (बैंक द्वारा निर्धारित शारीरिक परीक्षण के बाद) बैंक द्वारा शारीरिक रूप से अक्षम उम्मीदवारों को आवंटित संबंधित सेवाओं/पदों के लिए निर्धारित शारीरिक एवं चिकित्सा मानकों की अपेक्षाओं को पूरा करता हो।

III. न्यूनतम शैक्षिक अर्हताओं/कार्य अनुभव का ब्यौरा:

क्रम सं. पद शैक्षिक अर्हताएं (01.08.2018) अर्हता प्राप्त करने के बाद पर्यवेक्षी/प्रबंधन भूमिका में कार्य अनुभव (01.08.2018 को) (अनुभव के लिए परिवीक्षा अवधि को नहीं गिना जाएगा)
1. फाइनेंस अनिवार्य: सरकारी निकायों / एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय या इसी तरह के विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से न्यूनतम 55% अंक सहित अर्थशास्त्र/वाणिज्य में 2 वर्षीय पूर्णकालिक स्नातकोत्तर डिग्री / एमबीए (फाइनेंस) / पीजीडीएम (वित्त विशेषज्ञता के साथ)
वांछनीय: सीएफए (यूएसए), एफआरएम, सीए / आईसीडब्ल्यूए / सीएस /एक्चुरियल सोसायटी ऑफ इंडिया से चार्टर धारक/एसीसीए से आईएफआरएस प्रमाणन
अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक / बैंकों या प्रणालीगत रूप से महत्वपूर्ण एनबीएफसी में कॉरपोरेट क्रेडिट मूल्यांकन, कॉर्पोरेट ऋण वसूली, निवेश और खजाना (डेरिवेटिव सहित) में कम से कम तीन साल का कार्य अनुभव ।
2. डेटा एनालिटिक्स सरकारी निकायों / एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय या इसी तरह के विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से न्यूनतम 55% अंक सहित 2 वर्षीय पूर्णकालिक एमबीए (फाइनेंस) / एम. स्टेट। अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक / बैंकों या प्रणालीगत रूप से महत्वपूर्ण एनबीएफसी में या कम से कम 10 साल पहले स्थापित रेटिंग एजेंसी में क्रेडिट / बाजार / तरलता जोखिम के क्षेत्रों में डेटा एनालिटिक्स के रूप में कम से कम तीन वर्ष का कार्य अनुभव।
3. रिस्क मॉडलिंग सरकारी निकायों / एआईसीटीई से मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय या इसी तरह के विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से न्यूनतम 55% अंक सहित 2 वर्षीय पूर्णकालिक एमबीए (वित्त) / एम. स्टेट। अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक/बैंकों या प्रणालीगत रूप से महत्वपूर्ण एनबीएफसी में या कम से कम 10 साल पहले स्थापित रेटिंग एजेंसी में क्रेडिट / बाजार / तरलता जोखिम के क्षेत्रों में रिस्क मॉडलिंग में कम से कम तीन वर्ष का कार्य अनुभव।
4. फोरेंसिक ऑडिट आईसीएआई द्वारा आयोजित फॉरेंसिक एकाउंटिंग और धोखाधड़ी जांच पर सर्टिफिकेट कोर्स के साथ सीए / आईसीडब्ल्यूए। फोरेंसिक ऑडिट के क्षेत्र में कम से कम तीन वर्षों का विशेष कार्य अनुभव और केंद्रीय / राज्य सरकार उपक्रम या विभागों में फोरेंसिक ऑडिट टीम का हिस्सा बनना।
5. प्रोफेशनल कॉपी एडिटिंग 1. सरकारी निकायों द्वारा मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय या विदेशी विश्वविद्यालय / संस्थान से न्यूनतम 55% अंक सहित अंग्रेजी में पूर्णकालिक स्नातकोत्तर डिग्री।

2. हिंदी का ज्ञान वांछनीय है।
प्रसिद्ध प्रकाशन हाउस, पत्रिका या जर्नल में प्रोफेशनल कॉपी एडिटिंग में कम से कम तीन साल का कार्य अनुभव।
उपयोगकर्ता द्वारा जेनरेट की गई सामग्री को व्यावसायिक मानकों के अनुरूप फिर से लिखने का अनुभव। लिखित अंग्रेजी का उत्कृष्ट स्तर। उत्कृष्ट प्रूफ रीडिंग कौशल
6. ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट मान्यता प्राप्त भारतीय विश्वविद्यालय अथवा विदेशी विश्वविद्यालय/संस्थान से न्यूनतम 55% अंक सहित मानव संसाधन प्रबंधन / कार्मिक प्रबंधन / औद्योगिक संबंध / श्रम कल्याण में पूर्णकालिक स्नातकोत्तर डिग्री । घरेलू/विदेशी बैंकों / वित्तीय संस्थाओं/ प्रतिष्ठित वित्तीय कंपनियों/ वित्तीय सेवा संगठनों/ प्रतिष्ठित सार्वजनिक या निजी निगमों में मानव संसाधन प्रबंधन / भर्ती / प्रशिक्षण / कार्मिक प्रबंधन / औद्योगिक संबंधों के क्षेत्र में कम से कम तीन वर्ष का कार्य अनुभव।

टिप्पणी 1: उम्मीदवार के पास भारत के केंद्र या राज्य विधानमंडल द्वारा निगमित किसी विश्वविद्यालय की या संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित या विश्वविद्यालय अनुदान आयोग अधिनियम, 1956 की धारा 3 के अधीन विश्वविद्यालय के रूप में मानी गई किसी अन्य शिक्षा संस्था की डिग्री अथवा भारतीय विश्वविद्यालय संघ द्वारा मान्यताप्राप्त विदेशी विश्वविद्यालय से समकक्ष अर्हता होनी चाहिए।

टिप्पणी 2: कुछ विश्वविद्यालय/ संस्थान/बोर्ड श्रेणी अथवा अंकों के प्रतिशत नहीं अपितु समग्र ग्रेड प्वाइंट प्रदान करते हैं (उदाहरण के लिए सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई आदि) । यदि विश्वविद्यालय/ संस्थान/बोर्ड द्वारा समग्र ग्रेड प्वाइंटों को अंकों के प्रतिशत में बदलने का मानदंड बताया जाता है तो उसे स्वीकार किया जाएगा । तथापि यदि विश्वविद्यालय/संस्थान/बोर्ड द्वारा डिग्री/उत्तीर्ण होने संबंधी प्रमाणपत्र में समग्र ग्रेड प्वाइंटों को अंकों के प्रतिशत में बदलने का मानदंड नहीं बताया जाता है तो अपारिभाषित मानदंड (मानदंडों) की गणना निम्नानुसार की जाएगी:

समकक्ष सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई अथवा कोई और शब्दावली जो 10 प्वाइंट स्केल पर दी गई है अंकों का समग्र प्रतिशत
6.75 60%
6.25 55%
5.75 50%

टिप्प्णी 3: समग्र ग्रेड प्वाइंट अथवा अंकों के प्रतिशत, जहां दिए गए हों, का अभिप्राय पाठ्यक्रम की पूरी अवधि के होंगे ।

टिप्पणी 4: जहां समग्र ग्रेड प्वाइंट (सीजीपीए/ओजीपीए/सीपीआई, आदि) 10 के अलावा अन्य किसी संख्या में से दिए गए हों तो इनका 10 में से सामान्यीकरण किया जाएगा तथा उसकी गणना उक्त टिप्पणी 2 के अनुसार की जाएगी ।

टिप्पणी 5: अजा/अजजा तथा बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए पद 1, 2, 3, 5 तथा 6 के लिए स्नातकोत्तर डिग्री में अपेक्षित न्यूनतम अंक सभी सत्रों/वर्षों में समग्र रूप से 50% अथवा समकक्ष ग्रेड है। अजा/अजजा/बैंचमार्क दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम शैक्षिक अर्हताओं में उक्त छूट संबंधित पद तथा वर्ग के अंतर्गत रिक्तियों के आरक्षण तथा पदों को उपर्युक्तानुसार बैंचमार्क दिव्यांगताओं वाले व्यक्तियों के लिए उपयुक्त चिन्हित किए जाने के अधीन होगी।

4. कार्य संबंधी अपेक्षाओं का ब्यौरा:

क्रम सं. पद कार्य संबंधी अपेक्षाएं
1. फाइनेंस 1. भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा विनियमन और पर्यवेक्षण, लेखाकंन मानकों और क्रेडिट प्रबंधन पर जारी विभिन्न निर्देशों के लिए बैंकों के अनुपालन की निगरानी।
2. बैंक बैलेंस शीट का स्ट्रेस टेस्ट और विभिन्न परिदृश्यों का विश्लेषण करना
3. बैंकों के ऐप-आधारित भुगतान मार्गों की जांच और विनियामक दृष्टिकोण से कमजोरियों की पहचान करना।
4. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य काम
2. डेटा एनालिटिक्स 1. डेटा की व्याख्या करना, सांख्यिकीय तकनीकों का उपयोग करके परिणामों का विश्लेषण करना और ऑनगोइंग रिपोर्ट प्रदान करना
2. डेटाबेस, डेटा संग्रह प्रणाली, डेटा विश्लेषण और अन्य रणनीतियों को विकसित और कार्यान्वित करना जो सांख्यिकीय दक्षता और गुणवत्ता को इष्टतम करते हैं
3. प्राथमिक या माध्यमिक डेटा स्रोतों से डेटा प्राप्त करना और डेटाबेस / डेटा विश्लेषण प्रणाली को बनाए रखना
4. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य काम
3. रिस्क मॉडलिंग 1. ऐतिहासिक डेटा का उपयोग करके वित्तीय मॉडल बनाना और बैंकिंग से संबंधित विभिन्न ऑपरेटिंग मेट्रिक्स के आधार पर पूर्वानुमान प्रदान करना।
2. स्थूल और सूक्ष्म कारकों के आधार पर परिदृश्य विश्लेषण का संचालन जो वित्तीय क्षेत्र में जोखिम तक पहुंचने में मदद करे।
3. आवंटित पोर्टफोलियो के सटीक मॉडलिंग सुनिश्चित करना और नए लेनदेन मॉडल विकसित करना और मौजूदा मॉडल को बढ़ाना।
4. प्रमुख वित्तीय और गैर-वित्तीय जोखिमों की पहचान करना तथा उन जोखिमों के शमन के लिए कार्रवाई की सिफारिश करना।
5. विनियामक कार्यों में सहायता करने के लिए उपयुक्त संवेदनशीलता और परिदृश्य विश्लेषण लागू करना।
6. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य काम।
4. फारेंसिक ऑडिट 1. वित्तीय धोखाधड़ी की जांच करें और लेनदेन के निशान (ट्रेल) की जांच करें
2. संदिग्ध व्यक्तियों / संस्थाओं की वित्तीय प्रोफाइल बनाएं
3. वित्तीय जांच रिपोर्ट संकलित करें
4. बैंकरों से मिलें और लेखापरीक्षा निष्कर्षों की व्याख्या करें
5. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य काम
5. प्रोफेशनल कॉपी एडिटिंग 1. बैंक द्वारा अंग्रेजी में जारी पॉलिसी दस्तावेजों, दिशानिर्देशों, रिपोर्टों, अनुदेशों, प्रकाशनों और अन्य दस्तावेजों का संपादन /प्रूफ रीडिंग
2. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा गया कोई अन्य काम
6. ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट 1. संगठन में आवश्यकता के अनुसार जनशक्ति योजना / भर्ती / प्रवेशण / नियुक्ति / कर्मचारियों का प्रशिक्षण और विकास।
2. कर्मचारियों के कार्य निष्पादन मूल्यांकन और करियर विकास प्रणाली का प्रबंधन।
3. संगठन की मानव संसाधन नीतियों का कार्यान्वयन।
4. कर्मचारी / पूर्व कर्मचारी और उनके परिवारों के लिए विभिन्न कल्याण संबंधित सेवाओं, औद्योगिक संबंधों और प्रशासन का प्रबंधन।
5. समय-समय पर बैंक द्वारा सौंपा कोई अन्य काम

5. प्रयासों की संख्‍या: यदि भविष्य में किसी भी विशेषज्ञ के पद के लिए रिक्ति होती है तो निम्नलिखित नियम लागू होगा:

अनारक्षित अर्थात सामान्‍य श्रेणी के जो उम्‍मीदवार इस पद के लिए परीक्षा में पहले छह बार बैठ चुके हैं वे इसके लिए आवेदन करने के लिए पात्र नहीं हैं । अजा/अजजा/अपिव/बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के उम्‍मीदवारों के लिए ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं है, यदि पद उनके लिए आरक्षित हैं ।

6. चयन योजना : उक्त पदों के लिए चयन निम्नलिखित तीन प्रश्नपत्रों में ऑनलाइन/ऑफलाइन परीक्षाओं के द्वारा होगा। अंतिम रूप से चयन के लिए प्रश्नपत्र I, प्रश्नपत्र II, प्रश्नपत्र III तथा साक्षात्कार में प्राप्त किए गए अंकों को गिना जाएगा।

प्रश्नपत्र परीक्षा का प्रकार परीक्षा का विषय अवधि अंक
प्रश्नपत्र-I ऑनलाइन-वस्तुनिष्ठ विशेषज्ञता के क्षेत्र में व्यावसायिक ज्ञान 90 मिनट 100
प्रश्नपत्र-II ऑनलाइन-वर्णनात्मक (कीबोर्ड की सहायता से टाइप किया जाना होगा) अंग्रेजी (लेखन कौशल) 90 मिनट 100
प्रश्नपत्र-III ऑफलाइन-वर्णनात्मक (पेपर आधारित) विशेषज्ञता के क्षेत्र में व्यावसायिक ज्ञान 90 मिनट 100

विस्तृत चयन योजना परिशिष्ट-II में दी गई है जो बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर उपलब्ध है।

7. ऑनलाइन परीक्षा केंद्र:

I. जिन केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की जाएगी वे निम्नानुसार हैं:

केंद्र
अहमदाबाद कानपुर
बेंगलूरु कोच्ची
भोपाल कोलकाता
भुवनेश्‍वर लखनऊ
चंडीगढ़ मुंबई
चेन्‍नै नागपुर
गुवाहाटी नई दिल्‍ली
हैदराबाद पटना
जयपुर पुणे
जम्‍मू तिरूवनंतपुरम

II. परीक्षा के केन्‍द्र और तिथि को बोर्ड के विवेकानुसार परिवर्तित किया जा सकता है। केंद्रों का आबंटन “पहले आवेदन-पहले आबंटन” के आधार पर किया जाएगा और किसी केंद्र विशेष की क्षमता पूरी होने के उपरांत उस केंद्र पर आबंटन रोक दिया जाएगा। जिन उम्मीदवारों को अपनी पसंद का केंद्र प्राप्त नहीं होता उन्हें शेष केंद्रों मे से कोई केंद्र चुनना होगा। अत: आवेदकों को सलाह दी जाती है कि वे शीघ्र आवेदन करें ताकि उन्हें अपनी पसंद का केंद्र प्राप्त हो सके।

टिप्पणी: पूर्वोक्त प्रावधान के बावजूद, बोर्ड को यह अधिकार है कि वह अपने विवेकानुसार केंद्रों में परिवर्तन कर सकता है, यदि परिस्थिति की मांग ऐसी हो। सभी परीक्षा केंद्र संबंधित परीक्षा केंद्रों पर निम्न दृष्टि उम्मीदवारों की परीक्षा की आवश्यकताओं का ध्यान रखेंगे। जिन उम्मीदवारों को परीक्षा में प्रवेश दे दिया जाता है उन्हें समय-सारिणी तथा परीक्षा स्थल(स्थलों) की जानकारी दे दी जाएगी। उम्मीदवारों को यह नोट करना चाहिए कि केंद्र परिवर्तन हेतु उनके अनुरोध को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

III. उम्मीदवार केवल एक केंद्र का चयन कर सकते हैं तथा चयनित केंद्र का उल्लेख ऑनलाइन आवेदन में अवश्य किया जाए।

IV. उम्मीदवार परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र पर अपने जोखिम तथा व्यय पर उपस्थित होंगे। बोर्ड उम्मीदवारों के भोजन/ठहरने की व्यवस्था नहीं करता है। परीक्षा के दौरान बोर्ड किसी भी प्रकार की चोट अथवा नुकसान आदि के लिए उत्तरदायी नहीं होगा ।

V. साक्षात्कार: साक्षात्कार उक्त पैरा 7 (I) में दिए केंद्रों में से कुछ केंद्रों पर होंगे। इसका ब्यौरा साक्षात्कार बुलावा पत्र में दिया जाएगा।

8. आवेदन शुल्क तथा सूचना प्रभार:

क्रम सं. वर्ग प्रभार राशि*
1. अजा/अजजा/बैंचमार्क दिव्यांग केवल सूचना प्रभार 100/- रुपये
2. सामान्य/अपिव सूचना प्रभार सहित आवेदन शुल्क 850/- रुपये
3. स्टाफ@ शून्य शून्य
*बैंक/लेनदेन प्रभार का वहन उम्मीदवार द्वारा किया जाएगा
@ शुल्क/सूचना प्रभार में छूट भारतीय रिज़र्व बैंक के केवल उन्हीं कर्मचारियों (स्टाफ उम्मीदवारों) को दी जाएगी जो दिनांक 20 दिसंबर 2013 के परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-14 के अनुसार बैंक द्वारा निर्धारित पात्रता मानदंडों को अलग से पूरा करते हैं । स्टाफ उम्मीदवार के रूप में उनकी स्थिति की जांच साक्षात्कार के समय की जाएगी । यदि वे स्टाफ उम्मीदवार (उक्त संदर्भित मासंप्रवि परिपत्र के अनुसार) मानेजाने के पात्र नहीं हैं तो उन्हें सूचित किया जाता है कि वे स्वयं को गैर-स्टाफ उम्मीदवार दर्शाएं तथा गैर-स्टाफ उम्मीदवारों के लिए लागू शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान करें।

टिप्पणी I: निधारित शुल्क/सूचना प्रभार के बिना प्राप्त आवदेनों को तुरंत रद्द कर दिया जाएगा।

टिप्पणी II: एक बार शुल्‍क का भुगतान किए जाने पर उसे किसी भी कारण से लौटाया नहीं जाएगा और न ही शुल्क को किसी अन्य परीक्षा अथवा चयन के लिए आरक्षित रखा जा सकेगा।

टिप्पणी III: शुल्क/सूचना प्रभार का भुगतान केवल इस विज्ञापन में निर्धारित तरीके से ही किया जाना अपेक्षित है ।

9. आवेदन कैसे करें

(a) उम्मीदवारों के लिए अपेक्षित है कि वे वेबसाइट www.rbi.org.in. का प्रयोग करके ऑनलाइन आवेदन करें। आवेदन का कोई अन्य माध्यम/तरीका स्वीकार नहीं किया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के लिए विस्तृत अनुदेश परिशिष्ट-I में दिए गए हैं जो उपर्युक्त वेबसाइट पर उपलब्ध है। आवेदकों को केवल एक आवेदन पत्र प्रस्तुत करने का परामर्श दिया जाता है । तथापि किसी अपरिहार्य परिस्थितिवश यदि वह एक से अधिक आवेदन पत्र प्रस्तुत करता है तो वह यह सुनिश्चित कर लें कि उच्च आरआईडी (रजिस्ट्रेशन आईडी) वाला आवेदन पत्र हर तरह अर्थात आवेदक का विवरण, परीक्षा केंद्र, फोटो, हस्ताक्षर, बाएं हाथ के अंगूठे का निशान, हस्तलिखित घोषणा/ परिवचन तथा शुल्क आदि से पूर्ण है। एक से अधिक आवेदन पत्र भेजने वाले उम्मीदवार यह नोट कर लें कि केवल सभी रूप से पूर्ण अंतिम उच्च आरआईडी (रजिस्ट्रेशन आईडी) वाले आवेदन पत्र ही बोर्ड द्वारा स्वीकार किए जाएंगे और एक आरआईडी के लिए अदा किए गए शुल्क का समायोजन किसी अन्य आरआईडी के लिए नहीं किया जाएगा।

(b) सभी उम्मीदवार चाहे वे पहले से सरकारी नौकरी में हों या सरकारी स्वामित्व वाले औद्योगिक उपक्रमों में हों या इसी तरह के अन्य संगठनों में चाहे स्थायी या अस्थायी हैसियत से काम कर रहे हों या वर्क चार्ज कर्मचारी हों, इसमें कैजुअल या दैनिक दर पर कार्य करने वाले कर्मचारी शामिल नहीं है, या सार्वजनिक उद्यमों के अधीन कार्यरत हैं उनको ऑनलाइन आवेदन में यह परिवचन (अंडरटेकिंग) प्रस्तुत करना होगा कि उन्होंने लिखित रूप में अपने कार्यालय/विभाग के अध्यक्ष को सूचित कर दिया है कि उन्होंने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया है। उम्मीदवारों को यह ध्यान रखना चाहिए कि यदि बोर्ड को उनके उक्त परीक्षा के लिए आवेदन करने/परीक्षा में बैठने से संबद्ध अनुमति रोकते हुए कोई पत्र मिलता है तो उनका आवेदन पत्र अस्वीकृत किया जा सकता है/ उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है। संस्तुत उम्मीदवारों को ज्वाइनिंग के समय उनके सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम/सरकारी/अर्ध सरकारी नियोक्ता से उचित सेवा मुक्ति प्रमाणपत्र प्रस्तुत करना होगा।

टिप्पणी 1: उम्मीदवार को अपने आवेदन पत्र में परीक्षा के लिए केंद्र भरते समय सावधानीपूर्वक निर्णय लेना चाहिए। यदि कोई उम्मीदवार बोर्ड द्वारा प्रेषित प्रवेश पत्र में दर्शाए गए केंद्र से इतर केंद्र पर परीक्षा में बैठता है तो उस उम्मीदवार की उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन नहीं किया जाएगा तथा उनकी उम्मीदवारी रद्द की जा सकती है।

टिप्पणी 2: चलने में असमर्थ और प्रमस्तिष्कीय पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी) वाले उम्मीदवार जिनकी कार्य निष्पादन क्षमता (लेखन क्षमता) धीमी हो जाती है (न्यूनतम 40% तक अक्षमता) द्वारा स्क्राइब (लेखन सहायक) के प्रयोग के संबंध में जानकारी हेतु उपयुक्त प्रावधान आरंभिक ऑनलाइन आवेदन पत्र के समय ही किए गए हैं।

टिप्पणी 3: दृष्टिबाधित और चलने में असमर्थ तथा प्रमस्तिष्कीय पक्षाघात (सेरेब्रल पालसी), वाले उम्मीदवार जिनकी कार्य निष्पादन क्षमता (लेखन क्षमता) धीमी हो जाती है (न्यूनतम 40% तक अक्षमता) चाहे वे स्क्राइब (लेखन सहायक) की सुविधा का प्रयोग करें अथवा नहीं, द्वारा क्षतिपूरक समय लेने के संबंध में जानकारी हेतु उपयुक्त प्रावधान आरंभिक ऑनलाइन आवेदन पत्र के समय ही किए गए हैं।

टिप्प्णी 4: उम्मीदवारों को अपने आवेदन पत्र के साथ आयु, शैक्षिक योग्यता, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग तथा दिव्यांगता आदि का कोई प्रमाणपत्र प्रस्तुत नहीं करना होगा। इनकी जांच केवल साक्षात्कार के समय की जाएगी। अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित उम्मीदवारों के पास 01 अगस्त 2017 को अथवा इसके बाद जारी किया गया अपिव प्रमाणपत्र होना चाहिए। पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार यह सुनिश्चित कर लें कि परीक्षा में प्रवेश दिए जाने के लिए पात्रता शर्तें पूरी करते हैं। परीक्षा के सभी चरणों, जिनके लिए बोर्ड ने उन्हें प्रवेश दिया है अर्थात प्रश्नपत्र-I, II तथा III अथवा साक्षात्कार में उनका प्रवेश पूर्णत: अनंतिम होगा तथा उनके लिए निर्धारित पात्रता की शर्तों को पूरा करने पर आधारित होगा। यदि परीक्षाओं तथा साक्षात्कार के पहले या बाद में सत्यापन करने पर यह पता चलता है कि वे पात्रता की किन्हीं शर्तों को पूरा नहीं करते हैं तो बोर्ड द्वारा परीक्षा के लिए उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी। यदि उनके द्वारा किए गए दावे सही नहीं पाए जाते हैं तो बोर्ड द्वारा उन पर अनुशासनिक कार्रवाई की जा सकती है। जो उम्मीदवार बोर्ड द्वारा निम्न के लिए दोषी घोषित किया जाए:

(i) निम्नलिखित तरीकों से अपनी उम्मीदवारी के लिए समर्थन प्राप्त किया है अर्थात:

  1. गैर कानूनी रूप से परितोषण की पेशकश करना, या
  2. दबाव डालना, या
  3. परीक्षा आयोजित करने से संबंधित किसी भी व्यक्ति को ब्लैकमेल करना, अथवा उसे ब्लैकमेल करने की धमकी देना, अथवा

(ii) नाम बदल कर परीक्षा दी है, अथवा

(iii) किसी अन्य व्यक्ति से छद्म रूप से कार्य साधन कराया है, अथवा

(iv) जाली प्रमाणपत्र या ऐसे प्रमाणपत्र प्रस्तुत किए हैं जिनमें तथ्यों को बिगाड़ा गया हो अथवा

(v) गलत या झूठे वक्तव्य दिए हैं या किसी महत्वपूर्ण तथ्य को छिपाया है, अथवा

(vi) परीक्षा के लिए अपनी उम्मीदवारी के संबंध में निम्नलिखित साधनों का उपयोग किया है, अर्थात

  1. गलत तरीके से प्रश्नपत्र की प्राप्ति करना,
  2. परीक्षा से संबंधित गोपनीय कार्य से जुड़े व्यक्ति के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना
  3. परीक्षकों को प्रभावित करना, या

(vii) परीक्षा के समय अनुचित साधनों का प्रयोग किया हो, या

(viii) उत्तर पुस्तकाओं पर असंगत बातें लिखना या भद्दे रेखाचित्र बनाना अथवा

(ix) परीक्षा भवन में दुर्व्यवहार करना, जिसमें उत्तर पुस्तकाओं को फाड़ना, परीक्षा देने वालों को परीक्षा का बहिष्कार करने के लिए उकसाना अथवा अव्यवस्था तथा ऐसी ही अन्य स्थिति पैदा करना शामिल है, अथवा

(x) पात्र न होने के बावजूद परीक्षा में स्क्राइब (लेखन सहायक)/ क्षतिपूरक समय की सुविधा लेने, अथवा

(xi) परीक्षा संचालित करने के लिए बोर्ड द्वारा नियुक्त कर्मचारियों को परेशान किया हो या अन्य प्रकार की शारीरिक क्षति पहुंचाई हो, या

(xii) परीक्षा के दोरान मोबाइल फोन/पेजर या किसी अन्य प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, या यंत्र अथवा संचार यंत्र के रूप में प्रयोग किए जा सकने वाला कोई अन्य उपकरण प्रयोग करते हुए या अपने पास रखे पाया गया हो, या

(xiii) परीक्षा की अनुमति देते हुए उम्मीदवारों को भेजे गए प्रमाणपत्रों के साथ जारी अनुदेशों का उल्लंघन किया है, अथवा

(xiv) उपर्युक्त खंडों में उल्लिखित सभी/किसी भी कार्य के द्वारा बोर्ड को अवप्रेरित करने का प्रयत्न किया हो, तो उन पर आपराधिक अभियोग (क्रिमिनल प्रॉसीक्यूशन) चलाया जा सकता है और उसके साथ ही उसे-

बोर्ड द्वारा उस परीक्षा के लिए अयोग्य ठहराया जा सकता है जिसमें वह बैठ रहा है, और/अथवा उसे स्थायी रूप से या एक विशेष अवधि के लिए (i) बोर्ड द्वारा ली जाने वाली किसी भी परीक्षा अथवा चयन के लिए (ii) बैंक द्वारा उनके अधीन किसी भी नौकरी से वंचित किया जा सकता है। (iii) यदि वह पहले से ही बैंक में नियोजित है तो बर्खास्तगी; तथा (iv) यदि पहले से ही किसी अन्य सेवा में है तो बोर्ड द्वारा उनके नियोक्ता को अनुशासनिक कार्रवाई के लिए लिखना।

बशर्ते इस नियम के अधीन कोई शास्ति तब तक नहीं दी जाएगी जब तक: (i) उम्मीदवार को इस संबंध में लिखित अभ्यावेदन, जो वह देना चाहे, प्रस्तुत करने का अवसर न दिया गया हो और (ii) उम्मीदवार द्वारा अनुमत समय में प्रस्तुत अभ्यावेदन पर, यदि कोई हो, विचार न कर लिया गया हो।

10. आवेदनों की प्राप्ति की अंतिम तारीख: ऑनलाइन आवेदन 7 सितंबर 2018, अपराहन 00.00 बजे तक भरे जा सकते हैं।

11. सामान्य अनुदेश:

(a) बोर्ड के साथ पत्र व्यवहार: निम्नलिखित को छोड़कर अन्य किसी भी मामले में बोर्ड उम्मीदवार के साथ पत्र-व्यवहार नहीं करेगा:

पात्र उम्मीदवारों को परीक्षा प्रारंभ होने के दो सप्ताह पूर्व प्रवेश पत्र जारी किया जाएगा। प्रवेश पत्र बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर उपलब्ध होगा जिसे उम्मीदवारों द्वारा डाउनलोड किया जा सकता है। डाक द्वारा कोई प्रवेश पत्र नहीं भेजा जाएगा। यदि किसी उम्मीदवार को परीक्षा प्रारंभ होने से दो सप्ताह पूर्व ई-प्रवेश पत्र अथवा उनकी उम्मीदवारी के संबद्ध में कोई अन्य सूचना न मिले तो उसे तुरंत उपर्युक्त सहायता केंद्र से संपर्क करना चाहिए।

(b) सामान्यत: किसी भी उम्मीदवार को प्रवेश पत्र के बिना परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी। । ई-प्रवेश पत्र डाउनलोड करने पर इसकी सावधानीपूर्वक जांच कर लें तथा किसी भी प्रकार की विसंगति/त्रुटि होने पर बोर्ड को तुरंत इसकी जानकारी दें।

(c) परीक्षाओं के समय प्रस्तुत किए जाने के लिए पहचान का प्रमाण: प्रश्नपत्र-I, प्रश्नपत्र-II तथा प्रश्नपत्र-III की परीक्षा के लिए उपस्थित होने के लिए उम्मीदवारों के लिए अपेक्षित है कि वे प्रवेश पत्र के साथ-साथ वर्तमान में वैध फोटो पहचान पत्र मूल रूप में तथा इसी पहचान प्रमाण की एक फोटोप्रति प्रस्तुत करें। स्वीकार्य फोटो पहचान प्रमाण हैं - पैन कार्ड/ पासपोर्ट/ ड्राइविंग लाइसेंस/मतदाता पहचान पत्र/ फोटो सहित बैंक पासबुक/ राजपत्रित अधिकारी द्वारा कार्यालयी पत्रशीर्ष पर जारी फोटो पहचान प्रमाण/ लोक प्रतिनिधि द्वारा कार्यालयी पत्रशीर्ष पर जारी फोटो पहचान प्रमाण/मान्यता प्राप्त महाविद्यालय/विश्वविद्यालय द्वारा हाल ही में जारी वैध फोटो पहचान पत्र/ ई-आधार कार्ड/ फोटो सहित आधार कार्ड/ कर्मचारी पहचान कार्ड/फोटो सहित बार काउन्सल पहचान कार्ड। उम्मीदवार की पहचान का सत्यापन प्रवेश पत्र में दिए गए ब्यौरों/परीक्षा बुलावा पत्र, उपस्थिति सूची तथा प्रस्तुत किए गए अपेक्षित दस्तावेजों के संबंध में किया जाएगा । यदि उम्मीदवार की पहचान पर संदेह हो तो उम्मीदवार को परीक्षा में उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जा सकती है ।

टिप्पणी: परीक्षा की प्रत्येक पाली में उपस्थित होने के समय उम्मीदवारों को फोटो पहचान प्रमाण मूल रूप में प्रस्तुत करना होगा तथा प्रवेश पत्र/परीक्षा बुलावा पत्र के साथ इसकी फोटो प्रति जमा करनी होगी। इसके बिना उन्हें परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उम्मीदवार नोट करें कि बुलावा पत्र पर दिया गया नाम (पंजीकरण की प्रक्रिया के दौरान दिया गया) फोटो पहचान प्रमाण, प्रमाणपत्र, अंक पत्रकों पर दिए गए नाम से पूरी तरह मिलना चाहिएमहिला उम्मीदवार जिन्होंने विवाह के उपरांत अपना पहला/अंतिम/मध्य नाम बदला हो इस पर विशेष ध्यान दें । ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने अपने नाम बदले हैं को तभी अनुमति दी जाएगी यदि वे फोटो प्रति के साथ गजट अधिसूचना/ विवाह प्रमाणपत्र/हलफनामा की मूल प्रति प्रस्तुत करें। यदि प्रवेश पत्र/परीक्षा बुलावा पत्र तथा फोटो पहचान प्रमाण में दिए गए नाम/फोटो बेमेल हैं तो उम्मीदवार को परीक्षा में उपस्थित होने की अनुमति नहीं दी जाएगी ।

(d) बैंक उम्मीदवारों के उत्तरों का विश्लेषण अन्य उपस्थित उम्मीदवारों के उत्तरों के साथ करेगा ताकि समानता के पैटर्न का पता लगाया जा सके । ऐसे विश्लेषण के आधार पर यदि यह पाया गया कि उत्तरों की नकल की गई है तथा प्राप्त किए गए अंक सही/वैध नहीं है तो बैंक को यह अधिकार है कि वह उनकी उम्मीदवारी रद्द कर सके ।

(e) अंतिम दिन बैंक के नियंत्रण से परे किसी अन्य कारण से उम्मीदवार के आवेदन जमा करने में असमर्थ होने के लिए बोर्ड कोई दायित्व नहीं लेता ।

(f) उम्मीदवारों को ध्यान रखना चाहिए कि परीक्षा में उनका प्रवेश उनके द्वारा आवेदन पत्र में दी गई जानकारी के आधार पर अनंतिम रहेगा। यह बोर्ड/बैंक द्वारा पात्रता शर्तों के सत्यापन के अधीन होगा। केवल इस तथ्य का, कि किसी उम्मीदवार को उक्त परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र जारी कर दिया गया है, यह अर्थ नहीं होगा कि बोर्ड द्वारा उनकी उम्मीदवारी अंतिम रूप से ठीक मान ली गई है या किसी उम्मीदवार द्वारा प्रारंभिक परीक्षा के लिए उनके आवेदन पत्र में की गई प्रविष्टियां बोर्ड द्वारा सही मान ली गई हैं। उम्मीदवार ध्यान रखें कि बोर्ड उम्मीदवार के साक्षात्कार के लिए अर्हता प्राप्त कर लेने के बाद ही उनकी पात्रता की शर्तों का मूल प्रलेखों से सत्यापन का मामला उठाता है। बोर्ड द्वारा औपचारिक रूप से उम्मीदवारी की पुष्टि कर दिए जाने तक उम्मीदवारी अनंतिम बनी रहेगी। उम्मीदवार उक्त परीक्षा में प्रवेश का पात्र है या नहीं है इस बारे में बोर्ड का निर्णय अंतिम होगा।

(g) उम्मीदवार ध्यान रखें कि प्रवेश पत्र में कहीं-कहीं नाम तकनीकी कारणों से संक्षिप्त रूप में लिखे जा सकते हैं।

(h) परीक्षा की व्यवस्था में कुछ समस्या आने की संभावना को पूरी तरह नकारा नहीं जा सकता जिससे परीक्षा की डिलिवरी तथा/अथवा परिणाम आने पर प्रभाव पड़ सकता है । ऐसी स्थिति में समस्या को दूर करने का हर संभव प्रयास किया जाएगा जिसमें उम्मीदवारों का स्थानांतरण, परीक्षा में विलंब शामिल हैं। परीक्षा का पुन: आयोजन पूर्णत: भारिबैंसबो/परीक्षा संचालित करने वाले निकाय का निर्णय होगा। पुन: परीक्षा के लिए उम्मीदवारों का कोई दावा नहीं होगा। जो उम्मीदवार स्थानांतरण अथवा परीक्षा प्रक्रिया में विलंब को स्वीकार नहीं करेंगे उनकी उम्मीदवारी फौरन रद्द कर दी जाएगी।

(i) उम्मीदवारों को सूचित किया जाता है कि वे सूचनाएं जैसे प्रवेश पत्र/साक्षात्कार पत्र आदि प्राप्त करने के लिए अपने ई-मेल आईडी/मोबाइल नंबर सक्रिय रखें । उम्मीदवार नियमित रूप से ईमेल तथा एसएमएस देखते रहें। बोर्ड किसी अन्य तरीके से कोई सूचना नहीं भेजता है।

(j) भारतीय रिज़र्व बैंक के कर्मचारी (स्टाफ उम्मीदवार), जो बैंक द्वारा दिनांक 20 दिसंबर 2013 के परिपत्र केंका मासंप्रवि सं. जी-75/5599/05.01.01/2013-2014 के अनुसार अलग से निर्धारित पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं तथा जो अंतिम तारीख से पहले ऑनलाइन आवेदन करते हैं, भी इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं । स्टाफ उम्मीदवार के रूप में उनकी स्थिति की जांच साक्षात्कार के समय की जाएगी ।

(k) बोर्ड द्वारा उम्‍मीदवारों को अंक-सूची नहीं दी जाती है । परीक्षा और साक्षात्‍कार में प्राप्त अंक के अंक केवल अंतिम परिणाम की घोषणा के बाद बैंक की वेबसाइट पर इंटरएक्टिव मोड पर उपलब्ध होंगे।

(l) चयन/भर्ती के लिए उम्मीदवार द्वारा अथवा उनकी और से किसी भी प्रकार की अनुयाचना तथा राजनैतिक अथवा बाहरी दबाव का प्रयोग उम्‍मीदवार की अयोग्‍यता मानी जाएगी ।

(m) पात्रता, परीक्षाओं के संचालन, साक्षात्कार, मूल्यांकन, रिक्तियों की संख्या को ध्यान में रखते हुए परीक्षाओं तथा साक्षात्कार दोनों में न्यूनतम अर्हता मानक निर्धारित करने और परिणामों की सूचना देने से संबंधित सभी मामलों में बोर्ड का निर्णय अंतिम तथा उम्मीदवारों के लिए बाध्यकारी होगा तथा इस संबंध में कोई पत्राचार नहीं किया जाएगा ।

(n) दिव्यांग व्यक्तियों के लिए आरक्षित रिक्तियों के लिए आरक्षण का लाभ लेने के लिए पात्रता वही होगी जो “दिव्यांग अधिकार अधिनियम(आरपीडब्ल्यूडी), 2016” में है बशर्ते कि दिव्यांग उम्मीदवारों को शारीरिक अपेक्षाओं/कार्यात्मक वर्गीकरण (सक्षमताओं/अक्षमताओं) के संबंध में उन विशेष पात्रता मानदंडों को पूरा करना भी अपेक्षित होगा जो निर्धारित अपेक्षाओं के संगत हो।

(o) किसी भी उम्मीदवार को समुदाय संबंधी आरक्षण का लाभ, उसकी जाति को केंद्र सरकार द्वारा जारी आरक्षित समुदाय संबंधी सूची में शामिल किए जाने पर ही मिलेगा। यदि कोई उम्मीदवार आवेदन पत्र में यह उल्लेख करता है कि वह सामान्य वर्ग से संबंधित है लेकिन कालांतर में अपने वर्ग को आरक्षित सूची के वर्ग में तब्दील करने के लिए बोर्ड को लिखता है तो बोर्ड द्वारा ऐसे अनुरोध को किसी भी हालत में स्वीकार नहीं किया जाएगा। इसी सिद्धांत का अनुसरण बैंचमार्क दिव्यांग वर्ग के लिए भी किया जाएगा। परीक्षा की प्रक्रिया के दौरान किसी उम्मीदवार के दिव्यांग होने के खेदपूर्ण मामले में उम्मीदवार को ऐसा मान्य दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा जिसमें इस तथ्य का उल्लेख हो कि वह दिव्यांग अधिकार अधिनियम(आरपीडब्ल्यूडी), 2016 के अंतर्गत यथापारिभाषित 40% अथवा इससे अधिक दिव्यांगता से ग्रस्त है ताकि उसे बैंचमार्क दिव्यांगता के अंतर्गत आरक्षण का लाभ प्राप्त हो सके।

(p) अजा/अजजा/अपिव/बैंचमार्क दिव्यांगजनों/पूर्व सैनिकों के लिए उपलब्ध आरक्षण/रियायत के लाभ के इच्छुक उम्मीदवार यह सुनिश्चित करें कि वे निर्धारित पात्रता के अनुसार आरक्षण/रियायत के हकदार हैं। उम्मीदवारों के पास उनके दावे के समर्थन में निर्धारित प्रारूप में सभी आवश्यक प्रमाणपत्र होने चाहिए तथा इन प्रमाणपत्रों पर आवेदन जमा करने की निर्धारित तिथि (अंतिम तिथि) से पहले की तिथि अंकित होनी चाहिए।

(q) कृपया नोट करें कि यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा ।

(r) इस विज्ञापन से उत्पन्न किसी भी विवाद की स्थिति में विज्ञापन का अंग्रेजी संस्करण ही मान्य होगा।

(s) इस विज्ञापन से उत्पन्न कोई भी विवाद केवल मुंबई स्थित न्यायालयों के एकमात्र अधिकार क्षेत्र के अधीन होगा ।

टिप्पणी: यदि उपर्युक्त विज्ञापन के लिए कोई शुद्धिपत्र जारी किया जाता है तो उसे केवल बैंक की वेबसाइट www.rbi.org.in पर प्रदर्शित किया जाएगा ।

Server 214
शीर्ष